• अखिलेश यादव बोले- बड़े दलों से नहीं होगा गठबंधन, छोटे दलों के साथ मिलकर भाजपा को हराएंगे

अंकित सिंह Jul 21, 2021 17:22

अखिलेश यादव ने कहा था कि राज्य के आगामी विधानसभा चुनाव में पराजय से आशंकित सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने साजिशी रणनीति बनाने के लिये हाल में चित्रकूट समेत कई जिलों में बैठकें की थीं।

उत्तर प्रदेश में अलगे साल विधानसभा के चुनाव होने है। समाजवादी पार्टी की ओर से इसके लिए तैयारी शुरू की जा रही चुकी है। हालांकि सवाल यह है कि इस बार के चुनाव में किस दल का किससे गठबंधन होगा। इसी को लेकर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बड़ा बयान दिया है। अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने फैसला किया है कि बड़े दलों से गठबंधन नहीं होगा। पार्टी छोटे दलों को साथ लेकर चलने का काम करेगी और जिसको भी बीजेपी को हराना है उसके लिए समाजवादी पार्टी के दरवाज़े खुले हैं।

अखिलेश ने दावा किया कि आगामी चुनाव में समाजवादी पार्टी अपने गठबंधनों के साथ 350 सीटें जीतने जा रही है। आपको बता दें कि 2017 में कांग्रेस और 2019 में बसपा के साथ गठबंधन करके समाजवादी पार्टी को कुछ हासिल नहीं हो सका था। इससे पहले अखिलेश यादव ने कहा था कि राज्य के आगामी विधानसभा चुनाव में पराजय से आशंकित सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने साजिशी रणनीति बनाने के लिये हाल में चित्रकूट समेत कई जिलों में बैठकें की थीं। अखिलेश ने यहां एक बयान में कहा जनता के सत्तारुढ़ भाजपा सरकार के प्रति गहराते असंतोष से पार्टी शीर्ष नेतृत्व भलीभांति परिचित हो गया है।