कांग्रेस को बड़ा झटका देने की तैयारी में अमरिंदर, दिल्ली में आज होगी अमित शाह और जेपी नड्डा से मुलाकात

कांग्रेस को बड़ा झटका देने की तैयारी में अमरिंदर, दिल्ली में आज होगी अमित शाह और जेपी नड्डा से मुलाकात

जब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस्तीफा दिया था और उनके राजनीतिक भविष्य को लेकर सवाल किया गया था तो उन्होंने साफ तौर पर कहा था कि मेरे पास कई विकल्प है और करीबियों से सलाह के बाद ही फैसला लूंगा।

पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद लगातार कैप्टन अमरिंदर सिंह के राजनीतिक भविष्य को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं। इन सब के बीच वह आज दिल्ली दौरे पर आ रहे हैं। इसको लेकर अब तरह-तरह के अटकलों का दौर शुरू हो गया है। कैप्टन अमरिंदर सिंह चंडीगढ़ से दिल्ली के लिए रवाना हो चुके हैं। सूत्रों के हवाले से खबर यह है कि वह आज शाम गृह मंत्री अमित शाह के साथ मुलाकात करेंगे और साथ ही साथ उनकी मुलाकात भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी हो सकती है। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल तो यही है कि क्या अमरिंदर सिंह भाजपा में शामिल होने वाले हैं? इस पर सभी की नजरें फिलहाल टिकी हुई है।

इसे भी पढ़ें: यूपी में क्या है भाजपा की चुनावी तैयारी, कितना रहेगा ओवैसी फैक्टर, केजरीवाल का मुफ्त वाला दांव

आपको बता दें कि जब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस्तीफा दिया था और उनके राजनीतिक भविष्य को लेकर सवाल किया गया था तो उन्होंने साफ तौर पर कहा था कि मेरे पास कई विकल्प है और करीबियों से सलाह के बाद ही फैसला लूंगा। 2017 के चुनाव से पहले जब कांग्रेस में उन्हें नजरअंदाज किया गया था तो अमरिंदर बीजेपी में जाने की बात कह चुके थे। अमरिंदर सिंह ने यह भी कहा था कि हाल के पंजाब के घटनाक्रम से उन्हें अपमानित महसूस हो रहा था और इसलिए उन्होंने इस्तीफा दे दिया। 

इसे भी पढ़ें: अमरिंदर के समर्थन में आए अनिल शास्त्री, कहा- कांग्रेस में निरादर और अपमान की भी कोई जगह नहीं

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को अनुभवहीन करार दिया था। इसके बाद कांग्रेस की ओर से उन पर पलटवार किया गया था। इसके साथ ही अमरिंदर सिंह लगातार नवजोत सिंह सिद्धू को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बता रहे हैं। दावा कर रहे हैं कि नवजोत सिंह सिद्धू के संबंध पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और वहां के सेना अध्यक्ष से हैं। अमरिंदर सिंह ने यह भी दावा किया है कि नवजोत सिंह सिद्धू को रोकने के लिए वह लगातार काम करेंगे। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।