खालिस्तान मुद्दे को लेकर भगवंत मान सरकार पर बरसे अमरिंदर सिंह, कहा- सख्त कदम उठाने की जरूरत

Amarinder Singh
ANI
अंकित सिंह । Oct 01, 2022 4:43PM
अमरिंदर सिंह ने साफ तौर पर सवाल किया कि भगवंत मान के सरकार युवाओं को अपराध में शामिल होने और गैंगस्टर बनने और अलगाववादी आंदोलनों में शामिल होने से रोकने के लिए क्या कर रही है? उन्होंने भगवंत मान को नाम का मुख्यमंत्री ने बता दिया।

हाल में ही भाजपा में शामिल होने वाले पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य की भगवंत मान सरकार पर बड़ा प्रहार किया है। भगवंत मान सरकार पर कानून व्यवस्था को लेकर कुछ नहीं करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने साफ तौर पर कहा कि आने वाले चुनाव में पंजाब और केंद्र दोनों ही जगह भाजपा सरकार बनाएगी। दरअसल, अमरिंदर सिंह ने खालिस्तान का मुद्दा उठाया। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि राज्य सरकार को खालिस्तान के मुद्दे पर कार्यवाई करने की जरूरत है। कानून व्यवस्था राज्य का विषय है। मेरे कार्यकाल के दौरान खालिस्तान के नारे इसलिए नहीं लगे क्योंकि मैंने सख्त कदम उठाया था। अमरिंदर सिंह ने साफ तौर पर कहा कि भगवंत मान की सरकार कुछ नहीं कर रही है। उन्होंने दावा किया कि पंजाब और केंद्र दोनों में ही आने वाले दिनों में भाजपा अपनी सरकार बनाएगी।

इसे भी पढ़ें: मोदी सरकार पर राहुल का निशाना, पूछा- क्या कोरोना पीड़ितों के परिवार उचित मुआवजे के हकदार नहीं?

अमरिंदर सिंह ने साफ तौर पर सवाल किया कि भगवंत मान के सरकार युवाओं को अपराध में शामिल होने और गैंगस्टर बनने और अलगाववादी आंदोलनों में शामिल होने से रोकने के लिए क्या कर रही है? उन्होंने भगवंत मान को नाम का मुख्यमंत्री ने बता दिया। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही अमरिंदर सिंह भाजपा में शामिल हो गए थे। पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस से अलग होने के बाद उन्होंने अपनी अलग पार्टी बनाई थी। अपने पार्टी का नाम उन्होंने पंजाब लोक कांग्रेस रखा था। पंजाब चुनाव में भाजपा के साथ उन्होंने मिलकर सरकार बनाई थी। हालांकि, कुछ खास फायदा नहीं हुआ। यही कारण है कि उन्होंने अपनी पार्टी का भाजपा के साथ विलय कर लिया और खुद भाजपा में भी शामिल हो गए हैं। 

इसे भी पढ़ें: नड्डा ने भाजपा कार्यकर्ताओं से ओडिशा को ‘बीजद मुक्त’ बनाने को कहा

रीढ़ की हड्डी की सर्जरी के बाद लंदन से हाल में लौटने के बाद अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। सिंह ने 12 सितंबर को शाह के साथ अपनी मुलाकात के बाद कहा था कि उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा, पंजाब में मादक पदार्थ-आतंकवाद के बढ़ते मामलों और राज्य के सर्वांगीण विकास के लिए भविष्य की रूपरेखा से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर बहुत सार्थक चर्चा की। दो बार मुख्यमंत्री रह चुके सिंह पूर्ववर्ती पटियाला शाही परिवार के वंशज हैं।

अन्य न्यूज़