पूर्वोत्तर के तीन दिवसीय दौरे पर गुवाहाटी पहुंचे अमित शाह, कई परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास

पूर्वोत्तर के तीन दिवसीय दौरे पर गुवाहाटी पहुंचे अमित शाह, कई परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास

शाह के दौरे को लेकर पूर्वोत्तर लोकतांत्रिक गठबंधन के संयोजक हिमंत विश्व सरमा ने यह जानकारी दी। असम के वित्त मंत्री सरमा ने पत्रकारों को बताया कि असम की अपनी यात्रा के दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता शाह राज्य पार्टी कोर समिति और बोडोलैंड प्रादेशिक परिषद के नवनिर्वाचित सदस्यों से मुलाकात करेंगे।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अपने तीन दिवसीय पूर्वोत्तर दौरे पर शुक्रवार देर रात गुवाहाटी पहुंचे। गुवाहाटी हवाई अड्डे पर अमित शाह का स्वागत असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनेवाल, वरिष्ठ नेता हिमंत विश्व सरमा और कई वरिष्ठ नेताओं ने किया। इस दौरान उनका हवाई अड्डे पर भव्य स्वागत किया गया। असम के लोकगीत और लोक संस्कृति का प्रदर्शन कर गृहमंत्री का राज्य में स्वागत किया गया। शाह के दौरे को लेकर पूर्वोत्तर लोकतांत्रिक गठबंधन के संयोजक हिमंत विश्व सरमा ने यह जानकारी दी। असम के वित्त मंत्री सरमा ने पत्रकारों को बताया कि असम की अपनी यात्रा के दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता शाह राज्य पार्टी कोर समिति और बोडोलैंड प्रादेशिक परिषद के नवनिर्वाचित सदस्यों से मुलाकात करेंगे। सरमा ने बताया कि यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल-भाजपा-गण सुरक्षा पार्टी गठबंधन का 23 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल भी उनसे कई मुद्दों पर चर्चा करेगा।

असम में शाह के आधिकारिक कार्यक्रम में मध्य असम के बाताद्रव में वैष्णव संत श्रीमंत शंकरदेव के जन्मस्थान के सौंदर्यीकरण कार्यक्रम की आधारशिला रखना शामिल है। सरमा ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्री शाह गुवाहाटी में 860 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित होने वाले देश के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की आधारशिला भी रखेंगे। मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी उनसे राज्य से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे। रविवार की सुबह, शाह यहां कामाख्या मंदिर में पूजा-अर्चना करेंगे और मणिपुर के लिए रवाना होंगे जहां उन्हें विभिन्न योजनाओं की शुरूआत करनी है। सरमा ने बताया कि शाह रविवार की शाम को नयी दिल्ली लौटेंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।