अमित शाह ने राहुल गांधी को बताया मोदी-फोबिया से पीड़ित, कहा- विकास तभी हो सकता है, जब स्थिरता होगी

Amit Shah
अंकित सिंह । Jan 30, 2022 5:07PM
शाह ने काह कि भाजपा ने गोवा में संतुलित तरीके से विकास किया है। इंडस्ट्री आई हैं, इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ा है, व्यक्ति के विकास की योजनाएं आगे बढ़ी हैं, गरीब कल्याण का भी काम हुआ है। उन्होंने कहा कि छोटे राज्यों का विकास नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की प्राथमिकता है।

गोवा विधानसभा चुनाव के लिए भी प्रचार जारी है। 14 फरवरी को गोवा में मतदान होने है। आज भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह गोवा पहुंचे थे जहां उन्होंने एक सभा को संबोधित किया। अपने संबोधन के दौरान अमित शाह ने राहुल गांधी और कांग्रेस पर जबरदस्त तरीके से निशाना भी साधा। अमित शाह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को मोदी फोबिया से पीड़ित बताया। अमित शाह ने कहा कि गोवा के लोगों को भाजपा के ‘गोल्डन गोवा’ और कांग्रेस के ‘गांधी परिवार का गोवा’ में से किसी एक को चुनना होगा। उन्होंने कहा कि छोटे राज्यों का विकास नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की प्राथमिकता है। 

इसे भी पढ़ें: गोवा चुनाव: TMC ने जारी किया TMC-MGP गठबंधन का घोषणापत्र, महिलाओं के लिए आरक्षण का किया वादा

शाह ने काह कि भाजपा ने गोवा में संतुलित तरीके से विकास किया है। इंडस्ट्री आई हैं, इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ा है, व्यक्ति के विकास की योजनाएं आगे बढ़ी हैं, गरीब कल्याण का भी काम हुआ है। उन्होंने कहा कि छोटे राज्यों का विकास नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि भाजपा एक जिम्मेदार राजनीतिक पार्टी है और हम देश को विकास के साथ आगे ले जाते हैं। पिछले 7 सालों में पीएम मोदी ने इसे आगे बढ़ाया है। हमारी अर्थव्यवस्था 11वें स्थान पर थी, अब हम 5वें स्थान पर हैं। यह काम पीएम मोदी ने किया है। हम हमेशा वादे करते हैं जिन्हें हम पूरा करते हैं।

शाह ने कहा कि बीजेपी गोवा में विकास लाई है। गांधी परिवार के लिए गोवा सिर्फ एक वेकेशन स्पॉट है। हमने राज्य का बजट 432 करोड़ (2013-14) से बढ़ाकर 2,567 करोड़ (वर्ष 2021) कर दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत ने बुनियादी ढांचे के विकास पर कुछ नहीं किया। हमने वो किया जो हमने वादा किया था। उन्होंने कहा कि गोवा में विधानसभा चुनाव लड़ने वाले अन्य राज्यों के राजनीतिक दल यहां सरकार नहीं बना सकते, केवल भाजपा ही यह कर सकती है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़