चार दिवसीय चिंतन शिविर में शामिल होंगे असम के मंत्री और विधायक और नौकरशाह

Himanta Vishwa Sharma
ANI
असम में मंत्रियों, विधायकों और नौकरशाहों के लिए पहली बार आयोजित चार दिवसीय चिंतन शिविर का शनिवार को काजीरंगा में मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा और ईशा फाउंडेशन के सद्गुरु जग्गी वासुदेव उद्घाटन करेंगे। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

गुवाहाटी। असम में मंत्रियों, विधायकों और नौकरशाहों के लिए पहली बार आयोजित चार दिवसीय चिंतन शिविर का शनिवार को काजीरंगा में मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा और ईशा फाउंडेशन के सद्गुरु जग्गी वासुदेव उद्घाटन करेंगे। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

इसे भी पढ़ें: Mangalyaan: ISRO की शक्ति ने दुनिया को चौंकाया, 24 सितंबर को मंगलयान लॉन्च कर भारत ने इतिहास बनाया

शिविर की शुरुआत सद्गुरु के सत्र से होगी, जिसके बाद चिंतन शिविर के उद्देश्यों पर एक प्रस्तुति और सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। दूसरे दिन आयुष मंत्रालय द्वारा आयोजित योग सत्र के बाद, आर्ट ऑफ लिविंग के श्री रविशंकर का सत्र और ओपन हाउस चर्चा होगी।

इसे भी पढ़ें: ब्रिटेन में हिंदू खतरे में हैं? लिस्टर पुलिस के नवरात्रि और दिवाली पर दिया सुरक्षा का भरोसा

चार-दिवसीय शिविर में विभिन्न सत्रों के दौरान बुनियादी ढांचे, सामाजिक क्षेत्र, ग्रामीण विकास, शहरी क्षेत्र, कृषि और संबद्ध क्षेत्रों तथा राजस्व सृजन पर विषयगत प्रस्तुतियां दी जाएंगी। अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय की आर्थिक सलाहकार परिषद की ओर से भी 26 सितंबर को एक प्रस्तुतीकरण दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि शिविर के समापन के दिन प्रतिभागियों को काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में जीप सफारी और नगांव के महामृत्युंजय मंदिर के दर्शन के लिए ले जाया जाएगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़