अपने अवैध कार्यों को जायज बनाने आजम लड़ रहे चुनाव: जया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 8 2019 2:58PM
अपने अवैध कार्यों को जायज बनाने आजम लड़ रहे चुनाव: जया
Image Source: Google

रामपुर सीट से भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा ने कहा मेरा रामपुर के लोगों से भावनात्मक लगाव है। मैं यहां उनके लिये काम करने और नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने आयी हूं।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की रामपुर सीट से भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा ने अपने मुखर आलोचक और प्रतिद्वंद्वी सपा उम्मीदवार आजम खां को  परफॉर्मर  करार देते हुए कहा कि वह अपने अवैध कार्यों को जायज बनाने के लिये चुनाव लड़ रहे हैं। जया ने कहा  मेरा रामपुर के लोगों से भावनात्मक लगाव है। मैं यहां उनके लिये काम करने और नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने आयी हूं। आजम खां अपने कामों को वैध करने के लिये चुनाव लड़ रहे हैं। 

भाजपा को जिताए

वर्ष 2004 में रामपुर सीट से सपा के टिकट पर कांग्रेस की मजबूत उम्मीदवार बेगम नूर बानो को 85 हजार वोटों से हराने वाली जया इस बार भाजपा उम्मीदवार के तौर पर मैदान में हैं। जया पहले भी सपा नेता आजम खां के निशाने पर रही हैं। आजम खां द्वारा खुद को अक्सर ‘नाचने-गाने वाली’ करार दिये जाने के बारे में पूछने पर जया ने कहा, ‘‘वह किसी को कुछ भी कह सकते हैं। उनके दिल में औरतों के लिये कोई सम्मान नहीं है। ऐसे बेकार के बयान देना उनकी आदत में शामिल है, लेकिन रामपुर के लोग उन्हें अच्छी तरह जानते हैं और इस चुनाव में वे उन्हें जवाब देंगे।’’
उन्होंने कहा, ‘‘साल 2004 में जब मैं रामपुर से चुनाव लड़ रही थी तो आजम खां ने मेरे के लिये प्रचार किया था। मैं तब भी फिल्मों में काम करती थी, क्या तब वह मुझे नहीं जानते थे? दरअसल, वह खुद परफॉर्मर हैं। 


पिछले लोकसभा चुनावों और इस बार के चुनाव में फर्क के बारे में जया ने कहा कि अब चूंकि भाजपा के कार्यकर्ता उनके साथ हैं, लिहाजा उनके लिये चीजें काफी आसान हो गयी हैं। इस सवाल पर कि प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार उन पर बाहरी होने का आरोप लगा रहे हैं, पूर्व सांसद ने कहा, ‘‘मैं 2004 और 2009 में रामपुर से सांसद रह चुकी हूं। मैं हमेशा यहां के लोगों के सुख-दुख में साथ रही हूं। आखिर मैं बाहरी कैसे हो सकती हूं?’’
आजम खां के विवादित बयानों का जिक्र करते हुए जया ने कहा, ‘‘जो लोग भारत माता को डायन कहते हैं, जो कश्मीर को भारत का हिस्सा नहीं मानते और जो लोग प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ गंदी भाषा का इस्तेमाल करते हैं, उनका भेद जनता के सामने खुल चुका है।’’

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video