बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ‘भ्रष्ट हैं’, उन्हें हटाया जाना चाहिए: ममता बनर्जी

mamta
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि, राज्यपाल जगदीप भ्रष्ट हैं और उन्हें हटाया जाना चाहिए।बनर्जी ने कहा कि धनखड़ का उत्तर बंगाल दौरा एक ‘‘राजनीतिक हथकंडा’’ था क्योंकि वह केवल भाजपा के विधायकों और सांसदों से मिले थे।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को सोमवार को एक ‘‘भ्रष्ट व्यक्ति’’ कहा और उनकी हाल की उत्तर बंगाल यात्रा के उद्देश्य पर सवाल उठाया। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य के उत्तरी हिस्से को विभाजित करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है। उन्होंने राज्य सचिवालय में संवाददाताओं से कहा, ‘‘वह एक भ्रष्ट आदमी हैं। उनका नाम 1996 के हवाला जैन मामले के आरोप पत्र में था। केंद्र सरकार ने राज्यपाल को इस तरह से बने रहने की अनुमति क्यों दी है?”

इसे भी पढ़ें: असम के तेजपुर में बाल गृह में 11 बच्चों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया

बनर्जी ने कहा कि धनखड़ का उत्तर बंगाल दौरा एक ‘‘राजनीतिक हथकंडा’’ था क्योंकि वह केवल भाजपा के विधायकों और सांसदों से मिले थे। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया, ‘‘उन्होंने अचानक उत्तर बंगाल का दौरा क्यों किया? मुझे उत्तर बंगाल को बांटने के षड्यंत्र का आभास हो रहा है।’’ तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ने कहा कि वह धनखड़ को हटाने के लिए केंद्र को कई पत्र लिख चुकी हैं। बनर्जी ने कहा, ‘‘संविधान के अनुसार, मैं उनसे मिलना, उनसे बात करना और सभी शिष्टाचार का पालन करना जारी रखूंगी.. किंतु केंद्र सरकार को मेरे पत्रों के आधार पर कार्य करना चाहिए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़