CAA के खिलाफ बंद: मुंबई के मुस्लिम बहुल इलाकों में नहीं खुली दुकानें

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 29, 2020   20:19
CAA के खिलाफ बंद: मुंबई के मुस्लिम बहुल इलाकों में नहीं खुली दुकानें

सीएए और एनआरसी के खिलाफ भारत बंद के दौरान बुधवार को शहर के मुस्लिम बहुल इलाकों में दुकानें और कार्यालय बंद रहें। कुर्ला पीपे रोड इलाके में बुटीक चलाने वाली शबाना चौधरी ने कहा, ‘‘सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन के तहत हमनें दुकानें और अन्य प्रतिष्ठानों को बंद रखने का फैसला किया था।’’

मुंबई। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ ‘भारत बंद’ के दौरान बुधवार को शहर के मुस्लिम बहुल इलाकों में दुकानें और कार्यालय बंद रहें। पुलिस ने बताया कि डोंगरी, बायकुला, नागपाडा, माहिम, बांद्रा-बेहरामपाडा, कुर्ला पीपे रोड, कसाईवाडा, अंधेरी, जोगेश्वरी, मलाड-मलवानी और विखरोली में मुस्लिम बहुल इलाकों में दुकानें और कार्यालय बंद रहे। 

इसे भी पढ़ें: भारत बंद के चलते मुंबई में रोकी गईं कई ट्रेनें, ठाणे में कोई असर नहीं

पड़ोस के ठाणे जिले के मुम्ब्रा और नवी मुंबई के तलोजा, वाशी और पनवेल में बंद का अच्छा खासा असर देखने को मिला। कुर्ला पीपे रोड इलाके में बुटीक चलाने वाली शबाना चौधरी ने कहा, ‘‘सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन के तहत हमनें दुकानें और अन्य प्रतिष्ठानों को बंद रखने का फैसला किया था।’’ नागपाडा के निवासी सलीम कुरैशी ने कहा कि संसद में सीएए के पारित होने के बाद मुस्लिम ‘‘डर के साये’’ में जी रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।