खरगोन हिंसा: भोपाल के शहर काजी ने डीजीपी को सौंपा ज्ञापन, कहा- मुसलमानों को एक तरफा सताया जा रहा

Khargone
प्रतिरूप फोटो
ANI
खरगोन में प्रशासन द्वारा मकानों और दुकानों पर बुलडोजर चलाए जाने के बाद भोपाल के शहर काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी ने उलेमाओं के साथ मिलकर डीजीपी सुधीर सक्सेना से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने डीजीपी सक्सेना को ज्ञापन भी सौंपा। ज्ञापन में मुसलमानों को एकतरफा सताए जाने की बाते कही गई हैं।

भोपाल। मध्य प्रदेश के खरगोन में रामनवमी उत्सव के दौरान हिंसा हुई। जिसके बाद प्रशासन ने आरोपियों की पहचान करते हुए उनकी दुकानों और मकानों पर बुलडोजर चलाए। इसी संबंध में राजधानी भोपाल के शहर काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी ने उलेमाओं के साथ मिलकर डीजीपी सुधीर सक्सेना से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने डीजीपी सक्सेना को ज्ञापन भी सौंपा। 

इसे भी पढ़ें: FIR दर्ज होने पर दिग्विजय सिंह का बयान आया सामने, बोले- एक लाख मामले भी दर्ज हो जाएं तो चिंता नहीं 

ज्ञापन में मुसलमानों को एकतरफा सताए जाने की बाते कही गई हैं। काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी और उलेमाओं ने ज्ञापन में कहा कि पिछले कुछ महीनों से मध्य प्रदेश का माहौल खराब करने का प्रयास किया जा रहा है। इसी के तहत खरगोन और सेंधवा में फसाद हो रहे हैं। मुसलमानों को एक तरफा सताया जा रहा है, जुल्म बढ़ रहा है। 

इसे भी पढ़ें: गिरिराज सिंह बोले- रामनवमी पर पथराव संयोग नहीं एक प्रयोग है, खतरा मुस्लिमों से नहीं कट्टरपंथी सोच से है 

ज्ञापन में कहा गया कि मस्जिद के सेकेट्री ने सीसीटीवी कैमरे लगवाएं ताकि असमाजिक तत्व कोई हरकत करें तो उसका रिकॉर्ड रहे। इसके साथ ही ज्ञापन के जरिए मजलूमों का साथ देने की बात कही। उन्होंने कहा कि जिनके मकान जलाए गए हैं, दुकानें गिराई गई हैं, बेघर किया गया है, उनकी मदद करें।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़