आजम खान को बड़ा झटका, यूपी विधानसभा में विधायक के तौर पर नहीं ले पाएंगे शपथ

आजम खान को बड़ा झटका, यूपी विधानसभा में विधायक के तौर पर नहीं ले पाएंगे शपथ

वर्तमान में आजम खान लंबे समय से जेल में बंद है। यूपी में जीते सभी विधायक सदन में शपथ ग्रहण के लिए जा रहे हैं। पर आजम खान को इसके लिए जमानत नहीं मिली है। उत्तर प्रदेश में जीते हुए सभी विधायकों को सोमवार और मंगलवार को शपथ दिलाई जा रही है।

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और रामपुर से विधायक आजम खान को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, आजम खान यूपी विधानसभा में विधायक के तौर पर शपथ नहीं ले पाएंगे। सीतापुर जेल प्रशासन ने आजम खान को शपथ लेने के लिए अनुमति देने की याचिका दाखिल की थी जिसे कोर्ट की ओर से खारिज कर दिया गया है। आपको बता दें कि आजम खान ने हालिया विधानसभा का चुनाव लड़ा था। उन्होंने रामपुर सीट से जीत हासिल की है। आजम खान ने भाजपा के आकाश सक्सेना को हराया था। इससे पहले आजम खान रामपुर से लोकसभा के सांसद थे। लेकिन आजम खान ने अखिलेश यादव के साथ लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था।

वर्तमान में आजम खान लंबे समय से जेल में बंद है। यूपी में जीते सभी विधायक सदन में शपथ ग्रहण के लिए जा रहे हैं। पर आजम खान को इसके लिए जमानत नहीं मिली है। उत्तर प्रदेश में जीते हुए सभी विधायकों को सोमवार और मंगलवार को शपथ दिलाई जा रही है। आज आजम खान को भी विधायक के तौर पर शपथ लेना था पर कोर्ट से अनुमति नहीं मिली है। आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम और मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी ने भी विधायक पद की शपथ ले ली है। सोमवार को 348 विधायकों को विधानसभा में शपथ दिलाई गई थी।

इसे भी पढ़ें: चुनाव के बाद चाचा-भतीजे में रार! बैठक में न बुलाए जाने से नाराज शिवपाल पहुंचे दिल्ली, मुलायम से की अखिलेश की शिकायत

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता अखिलेश यादव समेत अनेक नवनिर्वाचित विधायकों ने सोमवार को उत्तर प्रदेश की 18वीं विधानसभा के सदस्य के रूप में शपथ ग्रहण की। सदन के नेता आदित्यनाथ के बाद विपक्ष के नेता के तौर पर नामित अखिलेश यादव ने विधायक के रूप में शपथ ली। आदित्यनाथ ने गोरखपुर शहरी सीट से हाल में राज्य विधानसभा चुनाव जीता था,जबकि अखिलेश यादव करहल विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए। प्रोटेम स्पीकररमापति शास्त्री ने सदन में सदस्यों को शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण से पहले विधानसभा में आदित्यनाथ ने पत्रकारों से कहा, देश की सबसे बड़ी विधानसभा के 18वें कार्यकाल के लिए शपथ ग्रहण कार्यक्रम शुरू हो रहा है , मैं इस अवसर पर सभी नवनिर्वाचित सदस्यों का हृदय से स्वागत करता हूं। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।