चमकी बुखार से 147 बच्चों की मौत, SKMCH में तैनात डॉक्टर सस्पेंड

bihar-147-children-died-doctor-suspended-in-skmch
अभिनय आकाश । Jun 23, 2019 3:59PM
इससे पहले अस्पताल के पीछे कई मानव कंकाल मिलने के बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया था। अस्पताल के अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार शाही ने कहा कि कुछ लोगों ने मानव कंकाल और टूटी खोपड़ियां देखी हैं जिसके जांच के आदेश दिए गए हैं। वहीं इसके बाद मुजफ्फरपुर के जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने कहा कि एक टीम ने उस जगह का दौरा किया है जहां मानव कंकाल और हड्डियां बरामद हुई हैं. टीम जल्द ही अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

पटना। बिहार में बच्चों की लाशें बीस दिन से निकल रही हैं। ये आंकड़ा दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) यानि चमकी नामक इस मौत के बुखार से अब तक 147 बच्चों की मौत हो चुकी है। श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (एसकेएमसीएच) में अब तक 128 बच्चों की मौत हो चुकी है। पूरे देश में इस घटना से सरकार पर बढ़ते दवाब का असर अब नजर आने लगा है। नीतीश सरकार ने चमकी बुखार के संबंध में बड़ी कार्रवाई करते हुए एसकेएमसीएच के सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर भीमसेन कुमार को निलंबित कर दिया गया है। उन्हें कार्यस्थल पर लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित किया गया है। 

इसे भी पढ़ें: बिहार में कम नहीं हो रहा चमकी बुखार का कहर, अबतक 130 बच्चों की मौत

इससे पहले अस्पताल के पीछे कई मानव कंकाल मिलने के बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया था। अस्पताल के अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार शाही ने कहा कि कुछ लोगों ने मानव कंकाल और टूटी खोपड़ियां देखी हैं जिसके जांच के आदेश दिए गए हैं। वहीं इसके बाद मुजफ्फरपुर के जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने कहा कि एक टीम ने उस जगह का दौरा किया है जहां मानव कंकाल और हड्डियां बरामद हुई हैं. टीम जल्द ही अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़