आपस में भिड़े बीजेपी और कांग्रेस के कार्यकर्ता, मंत्री भूपेंद्र सिंह का धरना, यूथ कांग्रेस ने की जांच की मांग

Khurai bhupendra singh
सुयश भट्ट । Jan 27, 2022 7:03PM
खुरई में सेल्फी पाइंट में पिछले दिनों हुई तोड़फोड़ के कारण दोनो ही पार्टियां आमने सामने आ गई। इस मामले को लेकर गुरुवार को तहसील कार्यालय में भिड़ पड़े। एक तरफ कांग्रेसी, जहां झूठे आरोप के खिलाफ ज्ञापन देने पहुंची थी। वहीं बीजेपी कांग्रेस पर कार्रवाही की मांग को लेकर ज्ञापन देने पहुंचे थे।

भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले के खुरई में सेल्फी प्वाइंट में पिछले दिनों हुई तोड़फोड़ मामले में खुरई तहसील कार्यालय में ज्ञापन देने पहुंचे बीजेपी और कांग्रेस कार्यकर्ता दोपहर आपस में भिड़ गए। दोनों पार्टियों के भिड़ने से माहौल तनाव पूर्ण हो गया।

दरअसल खुरई में सेल्फी पाइंट में पिछले दिनों हुई तोड़फोड़ के कारण दोनो ही पार्टियां आमने सामने आ गई। इस मामले को लेकर गुरुवार को तहसील कार्यालय में भिड़ पड़े। एक तरफ कांग्रेसी, जहां झूठे आरोप के खिलाफ ज्ञापन देने पहुंची थी। वहीं बीजेपी कांग्रेस पर कार्रवाही की मांग को लेकर ज्ञापन देने पहुंचे थे।

इसे भी पढ़ें:एक गलत आदेश के चलते 145 छात्राओं के साथ सरकार ने किया खिलवाड़, दर-दर भटक रही है छात्राएं 

बताया जा रहा है कि इस घटना की जानकारी लगते ही मंत्री भूपेंद्र सिंह खुरई तहसील कार्यालय पहुंच गए। मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कांग्रेसियों पर बीजेपी कार्यकर्ताओं से मारपीट का आरोप लगाते हुए कांग्रेसियों पर एफआईआर दर्ज करने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए।

जिसके बाद पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठी चार्ज किया। लाठीचार्ज में कांग्रेस के कई कार्यकर्ता घायल हो गए। मंत्री भूपेंद्र सिंह ने  कांग्रेसियों पर बीजेपी कार्यकर्ताओं से मारपीट का आरोप लगाते हुए कांग्रेसियों पर एफआईआर दर्ज करने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। 

इसे भी पढ़ें:पार्टी के दौरान रोटी लाने पर हुआ विवाद, केरोसिन डाल अपने ही दोस्त को जलाया जिंदा 

बता दें कि मंत्री भूपेंद्र सिंह के वहां पहुंचने से मामला और गंभीर हो गया। बीजेपी कार्यकर्ताओं के उनके पहुंचने से हौंसले बढ़ गए। पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भगाने के लिए लाठी चार्ज कर दिया। इसके बाद उनकी गाड़ियों में तोड़फोड़़ हुई।

सेल्फी पाइंट में तोड़फोड़ के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बीजेपी कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए तो मंत्री भी उनके साथ वहीं बैठ गए। इस मामले को देखते हुए जिला पुलिस के विभिन्न थानों से अतिरिक्त पुलिस बल खुरई बुलाया गया। जानकारी ये भी मिली है कि जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष की गाड़ी में तोड़फोड़ भी किए गए।

इसे भी पढ़ें:भोपाल में नकली पनीर और घी हुआ जब्त, मुख्यमंत्री के निर्देश पर हुई छापेमारी 

इस मुद्दे को लेकर प्रदेश के यूथ कांग्रेस के प्रवक्ता विवेक त्रिपाठी ने कहा कि पुलिस ने पार्टी कार्यकर्ताओं के खिलाफ फर्जी मामला दर्ज कर उन्हें सरकार की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के मामले में फंसाया है। जिसके बाद पार्टी कार्यकर्ता शांतिपूर्वक ज्ञापन देने तहसील कार्यालय पहुंचे लेकिन भाजपा कार्यकर्ता वहां पहुंच गए और हंगामा किया।

त्रिपाठी ने आगे कहा कि वह इस मुद्दे को लेकर जल्द ही पुलिस महानिदेशक से मिलेंगे। वह मामले की निष्पक्ष जांच की मांग करेंगे। त्रिपाठी ने यह भी दावा किया कि युवा कांग्रेस कार्यकर्ता राज्य भर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का पुतला जलाएंगे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़