पार्टी के दौरान रोटी लाने पर हुआ विवाद, केरोसिन डाल अपने ही दोस्त को जलाया जिंदा

पार्टी के दौरान रोटी लाने पर हुआ विवाद, केरोसिन डाल अपने ही दोस्त को जलाया जिंदा

एसपी राहुल कुमार ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए कहा है कि बंडू माली ने संतोष को स्कूल की फीस में 50 हजार रुपए की छूट दिलवाई थी। जिसके चलते संतोष ने उसे पार्टी देने को कहा था। पार्टी में घर से रोटी लाने की बात हुई थी।

भोपाल। मध्य प्रदेश के बुरहानपुर जिले से एक दर्दनाक खबर सामने आई है। पार्टी के दौरान रोटी को लेकर हुए विवाद में आरोपियों ने अपने ही दोस्त को जिंदा जला दिया। यह घटना बुरहानपुर जिले के खामनी गांव की है।

दरअसल बंडू माली अपने दोस्तों के साथ खेत में पार्टी करने गया था। तभी उसका मोहन से रोटी को लेकर विवाद हो गया। जहां उसने अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर उसे जिंदा जलाकर हत्या कर दी। हालांकि पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

इसे भी पढ़ें:भोपाल में नकली पनीर और घी हुआ जब्त, मुख्यमंत्री के निर्देश पर हुई छापेमारी 

इस घटना को लेकर एसपी राहुल कुमार ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए कहा है कि बंडू माली ने संतोष को स्कूल की फीस में 50 हजार रुपए की छूट दिलवाई थी। जिसके चलते संतोष ने उसे पार्टी देने को कहा था। पार्टी में घर से रोटी लाने की बात हुई थी।

लेकिन बंडू माली ने पार्टी में शामिल मोहन से कहा कि तुमने घर से रोटी नहीं लाई है। दूसरे के घर से लाई है। और इसी बात को लेकर दोनों में विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि मोहन ने अन्य आरोपियों के साथ बंधु माली को खेत में बने मकान पर ले जाकर उसके ऊपर केसोसिन छिड़कर जिंदा जला दिया।

इसे भी पढ़ें:ऑनलाइन मिलेगी निजी स्कूलों को मान्यता, 10 फरवरी तक कर सकेंगे आवेदन 

 एसपी ने आगे कहा कि पुलिस शव के पास मिली अंगूठी से मृतक की पहचान की और पूछताछ के बाद आरोपियों तक पहुंचे। घटना के वक्त सभी आरोपी शराब के नशे धुत थे। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने भी अपना गुनाह कबूल कर लिया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...