बंगाल में भाजपा का विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने चलाई वाटर कैनन, तेजस्वी सूर्या बोले- हिटलर बन गई हैं ममता बनर्जी

बंगाल में भाजपा का विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने चलाई वाटर कैनन, तेजस्वी सूर्या बोले- हिटलर बन गई हैं ममता बनर्जी
ANI twitter

तेजस्वी सूर्या ने ममता बनर्जी और उनकी सरकार पर जमकर हमला किया है। तेजस्वी सूर्या ने कहा कि यहां तानाशाही सरकार है। ममता बनर्जी हिटलर बन गई हैं। हमारा संवैधानिक अधिकार छीना जा रहा है। हम शांतिपूर्वक बिकास भवन आए और विरोध प्रदर्शन किया, यह हमारा संवैधानिक अधिकार है। हमसे हमारा अधिकार छीना जा रहा है।

पश्चिम बंगाल में भाजपा लगातार ममता बनर्जी की सरकार के खिलाफ हमलावर है। इन सब के बीच आज भाजपा कार्यकर्ताओं की ओर से बंगाल में ममता सरकार के खिलाफ एक विरोध रैली निकाली गई। इस विरोध रैली में शामिल भाजपा कार्यकर्ताओं को तितर-बितर करने के लिए बंगाल पुलिस की ओर से वाटर कैनन का भी इस्तेमाल किया गया। भाजपा की रैली का नेतृत्व पार्टी के सांसद और भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने किया। भाजपा की ओर से पुलिस पर लाठीचार्ज का भी आरोप लगाया गया है। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए बंगाल पुलिस ने बैरिकेडिंग भी लगाई थी।

पुलिस के रवैए को लेकर तेजस्वी सूर्या ने ममता बनर्जी और उनकी सरकार पर जमकर हमला किया है। तेजस्वी सूर्या ने कहा कि यहां तानाशाही सरकार है। ममता बनर्जी हिटलर बन गई हैं। हमारा संवैधानिक अधिकार छीना जा रहा है। हम शांतिपूर्वक बिकास भवन आए और विरोध प्रदर्शन किया, यह हमारा संवैधानिक अधिकार है। हमसे हमारा अधिकार छीना जा रहा है। इसके साथ ही तेजस्वी ने कहा कि विवेकानंद और रविंद्र नाथ टैगोर की भूमि पर जिसने स्वतंत्रता आंदोलन के संदर्भ में शिक्षा में देश का मार्गदर्शन किया था, अब शिक्षा प्रणाली के संदर्भ में डूब रही है।

इसे भी पढ़ें: करौली को लेकर राजनीति जारी, गहलोत बोले- जिन राज्यों में है भाजपा की सरकार, वहां रामनवमी पर भड़के दंगे

तेजस्वी सूर्या ने कहा कि हम शिक्षा प्रणाली में राजनीतिकरण और भ्रष्टाचार का विरोध कर रहे हैं। वहीं पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष सुकांता मजूमदार ने भी ममता बनर्जी की सरकार पर निशाना साधा है। सुकांता मजूमदार ने कहा कि ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र की हत्या की है। हमने पुलिस से कहा कि हमें गिरफ्तार करें/हिरासत करें लेकिन लाठीचार्ज न करें। लेकिन उन्होंने किया। पुरुष पुलिसकर्मियों ने हमारी महिला कार्यकर्ताओं पर हमला किया। मेरी जानकारी के अनुसार, चार कार्यकर्ताओं को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत है, एक पहले से ही अस्पताल में भर्ती है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...