अखिलेश के सपने वाले बयान पर भाजपा का पलटवार, योगी बोले- भगवान कृ​ष्ण आज उनको कोस रहे होंगे

अखिलेश के सपने वाले बयान पर भाजपा का पलटवार, योगी बोले- भगवान कृ​ष्ण आज उनको कोस रहे होंगे

योगी ने हमला जारी रखते हुए आगे कहा कि जब हम यहां पर खुद उपस्थित होकर इस विद्युत परियोजना का लोकार्पण कर रहे हैं तो लखनऊ में कुछ लोगों के सपने में भगवान कृष्ण आ रहे होंगे और कह रहे होंगे कि अरे अपनी नाकामयाबियों पर अब तो रो जाओ। जो काम तुम नहीं कर पाए वो बीजेपी की सरकार ने ​कर दिया।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर राजनेताओं के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। हाल में ही समाजवादी पार्टी के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने दावा किया था कि भगवान श्रीकृष्ण ने उनके सपने में आते हैं और यह कहते हैं कि राज्य में सपा की सरकार बनेगी। इसी को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन पर पलटवार किया है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भगवान कृ​ष्ण आज उनको कोस रहे होंगे। भगवान कृष्ण ने उन्हें ये भी जरूर कहा होगा कि जब तुम्हें सत्ता मिली थी तब मथुरा, वृंदावन, बरसाना, गोकुल, बलदेव के लिए कुछ नहीं कर पाए लेकिन वहां पर कंस को पैदा करके जवाहरबाग की घटना जरूर करवा दी थी।

योगी ने हमला जारी रखते हुए आगे कहा कि जब हम यहां पर खुद उपस्थित होकर इस विद्युत परियोजना का लोकार्पण कर रहे हैं तो लखनऊ में कुछ लोगों के सपने में भगवान कृष्ण आ रहे होंगे और कह रहे होंगे कि अरे अपनी नाकामयाबियों पर अब तो रो जाओ। जो काम तुम नहीं कर पाए वो बीजेपी की सरकार ने ​कर दिया। वहीं भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि पता नहीं उनके सपने में कृष्ण भगवान कैसे आ रहे हैं और सपने में कौन आ रहा होगा इसके डर से ही लोग विक्षिप्त होकर बयान दे रहे हैं। जनता उन्हें समझ चुकी है कि किस तरह से उन्होंने राम भक्तों पर गोलियां चलाई थी और राम मंदिर का विरोध किया था।

इसे भी पढ़ें: चुनाव प्रचार में मोदी से सीधी भिड़ंत करने से जानबूझकर बच रहे हैं अखिलेश यादव

अखिलेश का बयान

अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि समाजवाद का रास्ता ही असल में रामराज्य का मार्ग है। यादव ने दावा किया कि भगवान श्रीकृष्‍ण हर रात उनके सपने में आते हैं और कहते हैं कि समाजवादी सरकार बनने जा रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा अक्सर रामराज्य की बात करती है लेकिन असल में समाजवाद का रास्ता ही रामराज्य का रास्ता है। उन्होंने कहा, समाजवाद का रास्ता ही रामराज्य का रास्ता है। जिस दिन पूरी तरह से समाजवाद लागू हो जाएगा उसी दिन से रामराज्य शुरू हो जाएगा। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...