भाजपा ने प्रियंका के साथ हुई बदसलूकी को लेकर EC को लिखा पत्र, कोलकाता डीसीपी के खिलाफ की कार्रवाई की मांग

भाजपा ने प्रियंका के साथ हुई बदसलूकी को लेकर EC को लिखा पत्र, कोलकाता डीसीपी के खिलाफ की कार्रवाई की मांग

भाजपा ने चुनाव आयोग को लिखे पत्र में कहा कि कोलकाता डीसीपी दक्षिण डिवीजन आकाश मघेरिया ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ चुनाव लड़ रहीं प्रियंका टिबरेवाल के साथ बदसलूकी की है।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के भवानीपुर में होने वाले उपचुनाव से पहले राजनीति गर्मा गई है। आपको बता दें कि भाजपा ने भवानीपुर से पार्टी उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल के साथ बदसलूकी को लेकर चुनाव आयोग का रुख किया है। दरअसल, भाजपा ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर मामले में कार्रवाई करने की अपील की है। 

इसे भी पढ़ें: अभिषेक बनर्जी पर बरसे शुभेंदु अधिकारी, बोले- भाजपा के वोटों को कोई नियंत्रित नहीं कर सकता 

भाजपा ने चुनाव आयोग को लिखे पत्र में कहा कि कोलकाता डीसीपी दक्षिण डिवीजन आकाश मघेरिया ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ चुनाव लड़ रहीं प्रियंका टिबरेवाल के साथ बदसलूकी की है। जिसके लिए उन्हें तत्काल प्रभाव से चुनाव ड्यूटी से हटा दिया जाना चाहिए और उन पर उचित कार्रवाई होनी चाहिए।

पत्र में कहा गया कि एक पार्टी के रूप में यह हमारा कर्तव्य है कि हम उस व्यक्ति के साथ खड़े रहें जिसने हमारे लिए अपने जीवन का बलिदान दिया और चूंकि हमने कोई कानून नहीं तोड़ा और अपने शहीद हुए सैनिक को अंतिम सम्मान देना चाहते थे।

प्रियंका के खिलाफ मामला दर्ज

आपको बता दें कि कालीघाट इलाके में गुरुवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास के पास भाजपा कार्यकर्ताओं को पार्टी नेता मानस साहा के शव के साथ शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने से रोक दिया गया था, जिसके बाद भाजपा नेताओं की पुलिस के साथ झड़प हो गई। इस संबंध में पुलिस ने भाजपा प्रदेश इकाई के अध्यक्ष डॉ. सुकांता मजूमदार और प्रियंका टिबरेवाल के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

इसे भी पढ़ें: चुनाव बाद हुई हिंसा में जख्मी मानस साहा ने तोड़ा दम, भाजपा ने कहा- ममता के हाथ खून से रंगे हैं 

इस झड़प के बाद डॉ. सुकांता मजूमदार ने कहा कि देखिए किस तरह से पुलिस ने मुख्य विपक्षी पार्टी के प्रदेश प्रमुख के साथ मारपीट की है। भाजपा सांसद अर्जुन सिंह और भवानीपुर उपचुनाव में पार्टी की उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल भी पुलिस कार्रवाई के खिलाफ प्रदर्शन करते नजर आईं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।