स्वच्छता सर्वे में पंचकूला को सिल्वर मेडल -ज्ञान चंद गुप्ता ने सफाई कर्मचारियों की पीठ थपथपाई

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 21, 2021   07:50
स्वच्छता सर्वे में पंचकूला को सिल्वर मेडल -ज्ञान चंद गुप्ता ने सफाई कर्मचारियों की पीठ थपथपाई

केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय के इस सर्वेक्षण में 4 करोड़ 4 लाख 53 हजार 231 नागरिकों ने हिस्सा लिया है। शनिवार को नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी की ओर से हरियाणा को सम्मानित किया गया। 100 से कम शहरी निकायों की श्रेणी वालों राज्यों में हरियाणा ने 1750 का स्कोर हासिल कर दूसरा स्थान हासिल किया है।

पंचकूला।  केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय की ओर से जारी  स्वच्छता सर्वेक्षण के परिणाम में हरियाणा ने जहां नया कीर्तिमान स्थापित किया है, वहीं पंचकूला का भी गौरव बढ़ा है। इस सर्वेक्षण में देश भर के राज्यों में हरियाणा ने द्वितीय स्थान हासिल किया तो पंचकूला ने सिल्वर मेडल हासिल किया है। विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने इस उपलब्धि के सफाई कर्मचारियों की पीठ थपथपाई है, साथ ही उन्होंने इसका श्रेय पंचकूला के जिम्मेदार नागरिकों को भी दिया है। 

केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय के इस सर्वेक्षण में 4 करोड़ 4 लाख 53 हजार 231 नागरिकों ने हिस्सा लिया है। शनिवार को नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी की ओर से हरियाणा को सम्मानित किया गया। 100 से कम शहरी निकायों की श्रेणी वालों राज्यों में हरियाणा ने 1750 का स्कोर हासिल कर दूसरा स्थान हासिल किया है। हरियाणा की इस उपलब्धि में राजधानी से सटे पंचकूला का विशेष योगदान रहा है। पंचकूला ने 3283.36 स्कोर के साथ 99 रैंक हासिल किया है। इसके लिए शहर को सिल्वर मेडल से नवाजा गया है।

इसे भी पढ़ें: हरियाणा के भट्टू कलां थाने को मिला ‘सर्वश्रेष्ठ पुलिस स्टेशन‘ अवार्ड

विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से देशभर में स्वच्छता को लेकर नजरिये में व्यापक सकारात्मक बदलाव आया है। प्रधान मंत्री जिस प्रकार स्वयं आगे बढ़कर स्वच्छता अभियान की अगुवाई करते हैं, उससे इस कार्य के प्रति आम नागरिकों के साथ-साथ उच्च पदों पर आसीन अधिकारियों और जनसेवकों के मन में सम्मान की भावना जागृत हुई है। अब स्वच्छता के कार्य को हीन भावना से नहीं देखा जाता। 

इसे भी पढ़ें: किसान अब परेशान न हों, प्रधानमंत्री के प्रति विश्वास बनाए रखें

गुप्ता के मुताबिक पंचकूला में ऐसे अभियानों की कामयाबी के पीछे यहां तीनों स्तरों पर बेहतर तालमेल भी प्रमुख कारण है। केंद्र सरकार जिन योजनाओं की शुरुआत करती है, प्रदेश सरकार उसका भली प्रकार से क्रियान्वयन करती है। इसके बाद स्थानीय निकाय स्तर पर नगर निगम की प्रभावी कार्यशैली से हर योजना का समुचित लाभ शहर और शहरवासियों को मिलता है। उन्होंने कहा कि सफाई कर्मचारियों के प्रयासों और आम लोगों की जिम्मेदारी की भावना के कारण पंचकूला को इस बार सिल्वर मेडल मिला है। अब उनका लक्ष्य अगले वर्ष शहर को गोल्ड मेडल दिलाना है। 

इसे भी पढ़ें: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने यमुनानगर में चल रहे ऐतिहासिक कपाल मोचन मेले में की शिरकत की

गौरतलब है कि विस अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने पंचकूला को स्वच्छ और सुंदर शहर बनाने के लक्ष्य से 7 सरोकारों की विशेष मुहिम शुरू की हुई है। इस मुहिम के तहत शहर को अतिक्रमण, स्लम, स्ट्रे कैटल, स्ट्रीट डॉग, ड्रग, प्रदूषण, प्लास्टिक से मुक्त करने का संकल्प दोहराया गया है। इस सभी सरोकारों पर काम करने के लिए जहां प्रशासनिक स्तर पर कार्य किया जाता है, वहीं शहर के प्रबुद्ध नागरिकों वाली पंचकूला डेवलपमेंट एडवाइजरी कमेटी विशेष योगदान देती है। इस कमेटी में   शिक्षा, चिकित्सा, खेल, कला, बागवानी, उद्योग, अभियांत्रिकी और प्रशासनिक सेवाओं का व्यापक अनुभव रखने वाले विषय विशेषज्ञ शामिल हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...