कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव के बाद मंत्रिमंडल विस्तार शीघ्र होगा: येदियुरप्पा

Yeddyurappa
कांग्रेस के पूर्व विधायक मुनिरत्न के पिछले साल विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने और भाजपा में शामिल हो जाने के कारण इस सीट पर उपचुनाव कराने की जरूरत पड़ी है।
बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने शनिवार को कहा कि तीन नवंबर को होने वाले विधानसभा उपचुनाव के बाद मंत्रिमंडल विस्तार शीघ्र किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि आर आर नगर सीट से भाजपा उम्मीदवार मुनिरत्न के जीतने के शीघ्र बाद उन्हें मंत्री बनाया जाएगा। येदियुरप्पा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘विभिन्न कारणों को लेकर इसे (मंत्रिमंडल विस्तार को) कुछ समय के लिए रोक दिया गया था। मैं इस पर पार्टी के नेताओं से चर्चा करने के लिए दिल्ली जाउंगा।’’ उन्होंने आर आर नगर में एक रोड शो से पहले कहा, ‘‘उपचुनाव के नतीजों की घोषणा होने के शीघ्र बाद यह होगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं उपचुनाव में उनके जीतने पर उन्हें (मुनिरत्न को) बेशक मंत्री बनाने जा रहे हूं।’’ वहीं, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डी के शिवकुमार ने मुनिरत्न के बारे में की गई मुख्यमंत्री की इस घोषणा की आलोचना करते हुए कहा कि यह आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। आर आर नगर उपचुनाव राज्य में तीनों प्रमुख पार्टियों- भाजपा, कांग्रेस और जद (एस)-- के लिये प्रतिष्ठा का प्रश्न बन गया है। 

इसे भी पढ़ें: सिद्धारमैया की मांग, बाढ़ की स्थिति पर चर्चा के लिए बुलाया जाए विशेष विधानसभा सत्र

कांग्रेस के पूर्व विधायक मुनिरत्न के पिछले साल विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने और भाजपा में शामिल हो जाने के कारण इस सीट पर उपचुनाव कराने की जरूरत पड़ी है। कांग्रेस ने पूर्व आईएएस अधिकारी डी के रवि की पत्नी एच कुसुमा को, जबकि जद (एस) ने वी कृष्णमूर्ति को उम्मीदवार बनाया है। शहर में आर आर नगर सीटऔर तुमकुरू जिले में सीरा सीट पर उपचुनाव तीन नवंबर को होंगे। मतगणना 10 नवंबर को होगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़