जेटली पर चिदंबरम का पलटवार, पूछा- क्या सरकार से सहमत लोग जी हुजूरी करने वाले हैं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 20, 2019   13:40
जेटली पर चिदंबरम का पलटवार, पूछा- क्या सरकार से सहमत लोग जी हुजूरी करने वाले हैं

उल्लेखनीय है कि 108 अर्थशास्त्रियों और सामाजिक विज्ञानियों ने पिछले सप्ताह एक साझा पत्र जारी कर देश में सांख्यिकी आंकड़े को प्रभावित करने में राजनीतिक हस्तक्षेप को लेकर चिंता जतायी थी।

नयी दिल्ली। आर्थिक वृद्धि के आंकड़ों में सरकार के हस्तक्षेप का आरोप लगाने वाले 108 अर्थशास्त्रियों पर वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा निशाना साधने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने बुधवार को उन पर पलटवार करते हुए सवाल किया कि क्या सरकार से सहमति जताने वाले लोग जी हुजूरी करने वाले हैं।

चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा, ‘‘जेटली जी के मुताबिक, जो सरकार से असहमति रखता है उसकी फितरत ही विरोध करने वाली है। क्या हम यह कह सकते हैं कि जो सरकार से सहमत है वो ‘उनके मालिक’ की जी हुजूरी करने वाला है?’’ दरअसल, जेटली ने 108 अर्थशास्त्रियों की मंगलवार को आलोचना की और उनके कथन को ‘फर्जी’ करार दिया था। उन्होंने कहा था कि उल्टी बातें करना इनकी फितरत रही है और ये मौजूदा सरकार के खिलाफ विभिन्न मुद्दों पर राजनीति के तहत गढ़े गए ज्ञापनों पर कई बार हस्ताक्षर कर चुके हैं।

इसे भी पढ़ें: विंध्यवासिनी देवी मंदिर में प्रियंका गांधी ने मांगा अखंड विजय का आशीर्वाद

उल्लेखनीय है कि 108 अर्थशास्त्रियों और सामाजिक विज्ञानियों ने पिछले सप्ताह एक साझा पत्र जारी कर देश में सांख्यिकी आंकड़े को प्रभावित करने में राजनीतिक हस्तक्षेप को लेकर चिंता जतायी थी। इसमें ज्यां ड्रेज (इलाहबाद विश्वविद्यालय), एमिली ब्रेजा (हार्वर्ड यूनिवर्सिटी), सतीश देशपांडे (दिल्ली विश्वविद्यालय), एस्थर डुफलो (एमआईटी, यूएस) और जयती घोष (जेएनयू) शामिल हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।