मुख्यमंत्री ने डॉ. राजेंद्र प्रसाद राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय टांडा में सीटी स्कैन मशीन का लोकार्पण किया

Jai Ram Thakur
मुख्यमंत्री ने कहा कि डॉ. राजेंद्र प्रसाद राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय टांडा राज्य के प्रमुख चिकित्सा महाविद्यालयों में से एक है और प्रदेश के लगभग छः जिलों की स्वास्थ्य आवश्यकताओं की पूर्ति करता है। उन्होंने कहा कि कोविड मामलों की संख्या में तेज वृद्धि चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि इस वायरस से लोगों के जीवन को बचाने के लिए डॉक्टर, पैरा मेडिकल स्टाफ और अन्य फ्रंट लाइन वर्कर दिन-रात निरंतर कार्य कर रहे हैं।

शिमला  मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने जिला कांगड़ा स्थित डॉ. राजेंद्र प्रसाद राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय टांडा में लगभग 5 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित सीटी स्कैन मशीन का लोकार्पण किया। यह 128 स्लाइस सीटी स्कैन मशीन राज्य के मरीजों को नवीनतम निदान सुविधा प्रदान करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि डॉ. राजेंद्र प्रसाद राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय टांडा राज्य के प्रमुख चिकित्सा महाविद्यालयों में से एक है और प्रदेश के लगभग छः जिलों की स्वास्थ्य आवश्यकताओं की पूर्ति करता है। उन्होंने कहा कि कोविड मामलों की संख्या में तेज वृद्धि चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि इस वायरस से लोगों के जीवन को बचाने के लिए डॉक्टर, पैरा मेडिकल स्टाफ और अन्य फ्रंट लाइन वर्कर दिन-रात निरंतर कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश को पात्र आयु वर्ग के सभी व्यक्तियों के शत-प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य हासिल करने वाला पहला राज्य बनाने के लिए प्रदेश के अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी सराहना की है। उन्होंने कहा कि देश में विकसित स्वदेशी वैक्सीन भी लोगों को इस वायरस से बचाने में कारगर रही है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने धर्मशाला में 283.19 करोड़ रुपये लागत की 17 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार ने दूर-दराज क्षेत्र बड़ा भंगाल, मलाणा और डोडरा क्वार आदि गांवों के लोगों का टीकाकरण कर इस कठिन लक्ष्य को पूरा किया है। उन्होंने कहा कि डॉक्टर और अन्य पैरा मेडिकल स्टाफ की प्रतिबद्धता के कारण वैक्सीन की शून्य बर्बादी सुनिश्चित हो पाई है।  मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य ने लोगों को उनके घर-द्वार के समीप विशेषज्ञ स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य अधोसंरचना सृजन के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रगति की है। उन्होंने कहा कि राज्य में एक समय में सिर्फ 50 वेंटिलेटर थे जबकि आज टांडा चिकित्सा महाविद्यालय में 165 वेंटिलेटर उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि पिछले चार वर्षों के दौरान महाविद्यालय को विभिन्न कार्यों और मशीनरी के लिए 165 करोड़ रुपये प्रदान किए गए हैं। उन्होंने कहा कि चिकित्सा महाविद्यालय को शीघ्र ही डिजिटल एक्सरे और डिजिटल मैमोग्राफी मशीन उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय में मल्टी स्टोरी पार्किंग का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सेन्टर ऑफ एक्सीलेंस ऑफ मेंटल हेल्थ, सराय भवन, ट्रामा सेन्टर, नर्सिंग भवन, छात्राओं के लिए छात्रावास, एमसीएच भवन और फैकल्टी ब्लॉक के कार्य में तेजी लाकर शीघ्र पूर्ण किया जाएगा। उन्होंने पैदल पुल और स्थानीय मार्ग के लिए 20-20 लाख रुपये की घोषणा की।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने धर्मशाला स्काईवे रोपवे का लोकार्पण किया

इसके उपरान्त मुख्यमंत्री युद्ध स्मारक धर्मशाला भी गए। मुख्यमंत्री श्यामनगर धर्मशाला में स्वर्गीय विनोद चंद कटोच के घर भी गए और शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त कीं।  नगरोटा बगवां के विधायक अरूण कुमार ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि इस सीटी स्कैन मशीन के स्थापित होने से क्षेत्र के लोगों की लम्बित मांग पूर्ण हुई है। उन्हांने कहा कि पिछले चार वर्षों के दौरान महाविद्यालय में पांच नए विभाग स्थापित किए गए हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से चिकित्सा महाविद्यालय में मल्टी स्टोरी पार्किंग प्रदान करने का आग्रह किया। उन्होंने क्षेत्र की विकासात्मक मांगों की विस्तृत जानकारी प्रदान की।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल हाईकोर्ट के निर्णय की भाषा पर सुप्रीम कोर्ट ने आपत्ति जताई

डॉ. राजेंद्र प्रसाद राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय टांडा के प्रधानाचार्य डॉ. भानु अवस्थी ने मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए कहा कि यह संस्थान मुख्यमंत्री के उदार प्रोत्साहन से राज्य में चिकित्सा शिक्षा के अग्रणी संस्थान के रूप में उभरा है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चौधरी, उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह, हिमाचल प्रदेश राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला, विधायक रविन्द्र धीमान, मुल्खराज प्रेमी, विशाल नेहरिया और होशियार सिंह, पूर्व विधायक सुरेन्द्र काकु, जिला परिषद अध्यक्ष रमेश बराड़, उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल और अन्य गणमान्य लोग इस अवसर पर उपस्थित थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़