मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बुलाई आपात बैठक, कहा गुंडे-बदमाशों के नेटवर्क को पूरी तरह समाप्त करें

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बुलाई आपात बैठक, कहा गुंडे-बदमाशों के नेटवर्क को पूरी तरह समाप्त करें

मुख्यमंत्री ने कहा कि भोपाल को हमें मॉडल के रूप में विकसित करना है। सुशासन हमारा मूलमंत्र है। विकास की दृष्टि, कानून व्यवस्था और सुविधाओं की दृष्टि से हम भोपाल को एक अद्भुत राजधानी बनाएंगे।

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को सीएम हाउस में आपात बैठक बुलाई। बैठक में भोपाल कमिश्नर, आईजी, कलेक्टर, एसपी, नगर निगम कमिश्नर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को तलब किया गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को बैठक के दौरान कानून व्यवस्था और अन्य महत्वपूर्ण विषयों को लेकर बैठक में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

 

इसे भी पढ़ें: लव जिहाद के माध्यम से किये जा रहे धर्म परिवर्तन को अब बर्दाश्त नहीं किया जायेगा- विश्वास कैलाश सारंग

बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि सरकार की प्राथमिकता सुशासन है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर भी बैठक की जानकारी दी। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा ‘आज निवास पर भोपाल के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की और भोपाल के विकास से जुड़े विषयों पर महत्वपूर्ण चर्चा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि भोपाल को हमें मॉडल के रूप में विकसित करना है। सुशासन हमारा मूलमंत्र है। विकास की दृष्टि, कानून व्यवस्था और सुविधाओं की दृष्टि से हम भोपाल को एक अद्भुत राजधानी बनाएंगे।

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में मौसम ने बदले तेवर, राजधानी भोपाल सहित कई जिलों में ठिठुरन भरी ठंड

मध्य प्रदेश को अपराधियों से मुक्त करने का अभियान जारी है, मैंने अधिकारियों को रसूखदारों और गुंडे-बदमाशों के नेटवर्क को पूरी तरह समाप्त करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश शांति का टापू है। हम नागरिकों के लिए फूल से ज़्यादा कोमल हैं, लेकिन अपराधियों के लिए वज्र से ज़्यादा कठोर। इस दौरान उन्होंने कहा कि इंदौर शहर ने स्वच्छता के अनेक कीर्तिमान स्थापित किये जिसके लिए मैं शहरवासियों को बधाई देता हूँ। हम भोपाल को भी स्वच्छता के मामले में सर्वोच्च स्थान दिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। विकास के साथ ही हम यह भी सुनिश्चित करेंगे कि गरीब तबके को किसी भी परेशानी का सामना न करना पड़े।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।