सिंधिया के समर्थन में सदस्यता ग्रहण समारोह में पहुँचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, कांग्रेस ने कहा सिंधिया जी सड़क पर कब उतरने वाले है

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 22, 2020   23:37
सिंधिया के समर्थन में सदस्यता ग्रहण समारोह में पहुँचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, कांग्रेस ने कहा सिंधिया जी सड़क पर कब उतरने वाले है

पटवारी ने कहा कि सिंधिया सड़क पर उतरने की बात करते थे, आज पांच महीने हो गये। वे अतिथि विद्वानों, शिक्षकों के लिए सड़क पर क्यों नहीं उतरे, आज तक वह सड़क दिख नहीं, कि वह सड़क पर कब आयेंगे। ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते जीतू पटवारी ने कहा कि सिधिया जी, वह सड़क अभी तक आपको क्यों नहीं मिली जिस पर आप उतरने वाले हैं

ग्वालियर/ भोपाल। मध्य प्रदेश में 27 विधानसभा सीटों पर होने वाले उप चुनाव को लेकर शनिवार को ग्वालियर में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के नेतृत्व में सदस्यता ग्रहण समारोह का आयोजन हुआ। जिसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा भी पहुँचे। ग्वालियर के फूलबाग में आयोजित सदस्यता ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होनें पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ पर चुटकी लेते हुए कहा कि कमलनाथ राम मंदिर भूमि पूजन के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करा रहे थे। हनुमान चालीसा का जाप करने से भक्तों की मदद होती है, शैतानों की नहीं। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कमलनाथ तुम गलत जगह भिड़ गए हो। जब ज्योतिरादित्य से सड़क पर उतरने को कहा तो सिंधिया ने कमल नाथ को ही सड़क पर ला दिया है। 

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने की पांच सदस्यीय समिति गठित, कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर झूठे केस दर्ज होने की करेगी जाँच

प्रदेश में आगामी उपचुनाव को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कहा कि भाजपा 27 में से 27 सीटें जीतेगी और उपचुनाव के नतीजों के बाद कमलनाथ दिल्ली को रवाना हो जाएंगे। ये परदेशी लोग हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ  सरकार में वल्लभ भवन को दलालों का अड्डा बना दिया था। मुख्यमंत्री चौहान लगातार कमल नाथ पर हमलावर हैं। भ्रष्टाचार से लेकर हर तरह के आरोप उन पर लगा रहे हैं। वही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से पहले बोलते हुए राज्य सभा सांसद ज्योतिरादित्य सिधिंया ने भी मंच से पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर जमकर हमला बोला। सिंधिया ने कमल नाथ पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि वल्लभ भवन को 15 महीने पहले ही लॉकडाउन कर दिया था। वहां जनता का जाना मना था। सिर्फ दलालों का अड्डा रह गया था।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर उठाए सवाल, कहा जनता महंगाई, महामारी और भ्रष्टाचार से जूझ रही है

वही दूसरी ओर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया अध्यक्ष और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने ग्वालियर में सदस्यता ग्रहण समारोह और सभा के बारे में कहा कि आज ग्वालियर मे आयोजित भाजपा की रैली में भाजपा की जो पोल खुल गई है। उससे साफ है कि शिवराज और सिंधिया को जनता ने पूरी तरह नकार दिया है। पटवारी ने कहा कि सिंधिया सड़क पर उतरने की बात करते थे, आज पांच महीने हो गये। वे अतिथि विद्वानों, शिक्षकों के लिए सड़क पर क्यों नहीं उतरे, आज तक वह सड़क दिख नहीं, कि वह सड़क पर कब आयेंगे। ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते जीतू पटवारी ने कहा कि सिधिया जी, वह सड़क अभी तक आपको क्यों नहीं मिली जिस पर आप उतरने वाले हैं

पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि आज ग्वालियर में भाजपा के कार्यक्रम में सिंधिया पुलिस टीम की सुरक्षा में आये, मुख्यमंत्री की सुरक्षा के साये में आये, क्योंकि कांग्रेस के कार्यकर्ता उन्हें काले झंडे न दिखा दें। पटवारी ने कहा कि इनको गद्दार शब्द से नफरत है, कौन कहता है इनको गद्दार, प्रदेश की जनता, क्योंकि ये किसानों का कर्ज खा गये, बेरोजगारी बढ़ा दी, दलितों पर अत्याचार बढ़ रहे हैं, अतिथि विद्वानों-शिक्षकों के बारे में एक शब्द भी इनके मुंह से नहीं निकला, इसलिए आप गद्दार हैं। जनमत के गद्दार हैं, किसानों के, बेरोजगारों के गद्दार हैं। दलितों पर अत्याचार हो रहे हैं। उन्होंने मध्य प्रदेश के एक करोड़ किसानों की उम्मीदों से गद्दारी की है। मध्य प्रदेश के 60 लाख बेरोजगारों के साथ गद्दारी की है, 15 लाख मजदूरों के साथ गद्दारी की है। प्रदेश के सभी वर्ग के लोगों की भावनाओं का कत्ल किया है। कमलनाथ सरकार द्वारा बेटियों के शादी के लिए दी जा रही 51 हजार रूपये की राशि को भाजपा को रोकना नहीं चाहिए। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि आज ग्वालियर में 10 हजार लोगों के सैलाव ने बता दिया कि आज जिनको गुलाम बना रखा था वह आजाद हो गये। उन्होंने लोकतंत्र की हत्या की है, इसलिए वे काले कपड़े से डर गये। 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में नामी व्यवसायियों पर आयकर का छापा, 500 करोड़ की बेनामी संपत्ति मिलने की संभावना

उन्होंने भाजपा के सदस्यता समारोह पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि भाजपा की ऐसी कैसी सदस्यता कि जिन लोगों ने काले कपड़े पहने हो, काला बेल्ट पहना हो, काला बटुआ रखा हो उन्हें सभा में घुसने नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि यह बहुत ही दुख का विषय है कि शिवराज और सिंधिया भगवान से बड़े हो गये है। गणेश चतुर्थी का दिन है, कोविड महामारी है, जनता से कहते हैं, नियमों का पालन करो और खुद बड़े-बड़े पंडाल लगाकर भगवान बन रहे हैं। क्या शिवराज और सिंधिया भगवान से बड़े हो गये हैं। जिन लोगों को तीन बार भोपाल लाकर भाजपा की सदस्यता दिलवायी गई, उन्हीं भाजपाईयों को ही सभा में आगे बिठाकर भाजपा में शामिल कराने का नाटक किया गया। उन्होंने कहा कि यह सर्वविदित है कि भाजपा हारने वाली है। उन्होंने चुनाव आयोग से समय पर चुनाव कराये जाने की मांग की है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...