चीनी सेना ने किया किशोर का अपहरण, राहुल गांधी ने साधा पीएम मोदी पर निशाना, कहा- उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता

चीनी सेना ने किया किशोर का अपहरण, राहुल गांधी ने साधा पीएम मोदी पर निशाना, कहा- उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने गुरुवार 20 जनवरी को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) द्वारा एक 17 वर्षीय लड़के के अपहरण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा पीएम की चुप्पी दिखाती है कि उन्हें किसी की परवाह नहीं है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने गुरुवार 20 जनवरी को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) द्वारा एक 17 वर्षीय लड़के के अपहरण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा पीएम की चुप्पी दिखाती है कि उन्हें किसी की परवाह नहीं है। राहुल गांधी ने कहा "हम मीराम तारन के परिवार के साथ हैं और उम्मीद नहीं छोड़ेंगे, हार नहीं मानेंगे।"

इसे भी पढ़ें: मेरठ में बुधवार को नामांकन में आयी तेजी,दिनेश खटीक, शाहिद मंजूर समेत 15 ने नामांकन भरा

चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने बुधवार को अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सियांग जिले से एक 17 वर्षीय लड़के मिराम तारोन का अपहरण कर लिया। इस बीच, अरुणाचल प्रदेश के पासीघाट पश्चिम निर्वाचन क्षेत्र के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग एरिंग ने भारतीय क्षेत्र में चीन की घुसपैठ को "दुर्भाग्यपूर्ण" कहा। वह चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) द्वारा एक 17 वर्षीय लड़के के अपहरण के बारे में बोल रहे थे। एसपी ने घटना की पुष्टि की है। लड़के का अपहरण बिसिंग के पास एक स्थान से किया गया था, जहां त्संगपो नदी अरुणाचल में सियांग और असम में ब्रह्मपुत्र के रूप में प्रवेश करती है।

सांगपो को अरुणाचल प्रदेश में सियांग और असम में ब्रह्मपुत्र के नाम से जाना जाता है। इससे पहले अरुणाचल पूर्व के कांग्रेस सांसद तपीर गाओ ने मिरियम टैरोन की तस्वीरें ट्वीट की थीं और कहा था कि चीनी पीएलए ने उनका अपहरण कर लिया था। अरुणाचल प्रदेश से सांसद तापिर गाओ ने बुधवार को कहा कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने राज्य में भारतीय क्षेत्र के अपर सियांग जिले से 17 वर्षीय एक किशोर का अपहरण कर लिया है।

गाओ ने कहा कि अपहृत किशोर की पहचान मिराम तरोन के रूप में हुई है। उन्होंने कहा कि चीनी सेना ने सियुंगला क्षेत्र के लुंगता जोर इलाके से किशोर का अपहरण किया। सांसद ने लोअर सुबनसिरी जिले के जिला मुख्यालय जिरो से फोन पर पीटीआई-से कहा कि पीएलए से बचकर भागने में कामयाब रहे तरोन के मित्र जॉनी यइयिंग ने स्थानीय अधिकारियों को अपहरण के बारे में जानकारी दी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।