रिहर्सल का वीडियो वायरल होने से चिराग पासवान की बढ़ी परेशानी, ट्वीट कर दिया ये जवाब

Chirag Paswan
लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने ट्वीट किया कि पापा के निधन के छह घंटे बाद ही मुझे पार्टी के प्रत्याशियों की पहली सूची देनी थी। मुझे पार्टी के भी सभी कार्यों को पूरा करना है।

पटना। लोक जनशक्ति पार्टी(लोजपा) के संस्थापक रामविलास पासवान की मौत के ठीक बाद शूट किया गया एक वीडियो मंगलवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें उनके चित्र के सामने खडे होकर उनके पुत्र और पार्टी प्रमुख चिराग पासवान को शोक के अवसर पर पहने जाने वाले सफेद कपडों में ही अपने राजनीतिक प्रचार का पूर्वाभ्यास करते हुए दर्शाया गया है। बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान शुरू होने के 24 घंटे से कम समय पहले वायरल हुए इस वीडियो पर आक्रोश के साथ प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए 37 वर्षीय लोजपा प्रमुख चिराग ने ट्वीट किया कि पापा के निधन के छह घंटे बाद ही मुझे पार्टी के प्रत्याशियों की पहली सूची देनी थी। मुझे पार्टी के भी सभी कार्यों को पूरा करना है। 10 दिनों तक मुझे घर से बाहर नहीं जाना था, इस लिए डिजिटल प्रचार के लिए वीडियो शूट करना ही था।

इसे भी पढ़ें: BPSC परीक्षा के लिए ऊपरी आयु सीमा बढ़ाएंगे, शिक्षा पर बजट का 22% करेंगे खर्च: तेजस्वी यादव 

केंद्र में सत्तासीन राजग में शामिल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू से नाता तोडकर अपने बलबूते चुनावी लड रही लोजपा के प्रमुख चिराग ने कहा, पापा के जाने का मुझे कितना दुख है, अब ये मुझे क्या नीतीश कुमार जी को भी प्रमाणित करना होगा? मैं रोज़ शूट कर रहा हूँ। ऑप्शन क्या है मेरे पास... पापा का ऐसे समय पर निधन हुआ जब चुनाव प्रचार सर पर था। उन्होंने आरोप लगाया, मुख्यमंत्री इतना नीचे गिर सकते है, यह नहीं सोचा था। ताज्जुब होता है। मेरी नीतियों पर वार करें, मुख्यमंत्री। मुंगेर की घटना से ध्यान भटकाने के लिए यह चाल कामयाब नहीं होगी साहब की और अब जनता भी कभी माफ़ नहीं करेगी नीतीश कुमार जी को।

उल्लेखनीय है कि मुंगेर जिले में सोमवार की देर रात्रि देवी दुर्गा की मूर्ति के विसर्जन के दौरान झडप में कथित तौर पर पुलिस गोलीबारी में एक युवक की मौत पर चिराग ने ट्वीट कर कहा था, मुंगेर पुलिस के ऊपर 302 का मुक़दमा दर्ज होना चाहिए। श्रद्धालुओं को गोली मारना नीतीश के तालिबानी शासन को दिखाता है। स्थानीय पुलिस अधीक्षक को तत्काल निलंबित कर 302 के तहत प्राथमिकी दर्ज करवाए नीतीश कुमार जी। मृतक के परिवार को 50 लाख रुपए और एक सरकारी नौकरी दे सरकार। 

इसे भी पढ़ें: बिहार चुनाव: 71 सीटों के लिए मतदान जारी, PM मोदी ने कहा- मास्क जरूर पहनें 

बिहार के मंत्री नीरज कुमार ने चिराग के साथ साथ विपक्षी महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर घोषित तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि परिवारवाद की राजनीति का हश्र देखिए। एक ने बैनर से अपने पिता का नाम और फोटो गायब कर दिया और दूसरे ने पितृधर्म का निर्वाह नहीं किया। उन्होंने कहा, हमारी परंपरा ही नहीं संस्कार भी रहा है कि जिस पिता ने जन्म दिया उसकी सेवा करना, लेकिन बदलते दौर में ये नई पीढ़ी के जो कलाकार हैं जरा इनकी कार्यशैली पर गौर कीजिए।

नीरज ने चिराग पर कटाक्ष करते हुए कहा कि पिता की चिता भी ठंढ़ी नहीं हुई और ये वीडियो शूट करवाने लगे। लज्जा भी राजनीति में आज शर्मसार हो गया, परिवारवाद के इस विकृत स्वरूप को देखकर कि अब लोग पिता पर भी राजनीति का एजेंडा तय करते हैं। बिहार में जदयू के साथ सत्ता में शामिल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल से इस वायरल वीडियो के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “मैं केवल यह कह सकता हूं कि चिराग पासवान एक अच्छे अभिनेता हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़