बंगाल हार के बाद भाजपा नेताओं में रार, विजयवर्गीय और तथागत रॉय आमने-सामने

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 2, 2021   21:15
बंगाल हार के बाद भाजपा नेताओं में रार, विजयवर्गीय और तथागत रॉय आमने-सामने

इस साल की शुरुआत में हुए बंगाल विधानसभा चुवाव में भाजपा को सिर्फ 77 सीटों से ही संतोष करना पड़ा था। भाजपा को तृणमूल कांग्रेस के हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा था। पार्टी की हार से आहत रॉय ने चुनाव के बाद पार्टी के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष और पार्टी के केंद्रीय पर्यवेक्षकों कैलाश विजयवर्गीय, शिव प्रकाश और अरविंद मेनन को चुनावी हार के लिए जिम्मेदार बताया था।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार के बाद पार्टी नेताओं में तकरार तेज़ हो गयी है। त्रिपुरा के पूर्व राज्यपाल और बंगाल बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष तथागत रॉय ने एक कुत्ते और बीजेपी के महासचिव और पश्चिम बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय का फोटो कोलाज ट्वीट करने के बाद विवाद खड़ा हो गया। तस्वीर के साथ कैप्शन में लिखा है, “वोडाफोन इन वेस्ट बंगाल अगेन”।  तथागत रॉय के इस ट्वीट के बाद से ही बंगाल बीजेपी में  चल रही कलह एक बार फिर सामने आ गई है।

ट्वीटर पर एक यूजर ने सवाल किया था कि चुनावी हार के बावजूद कैलाश विजयवर्गीय अभी भी भाजपा के बंगाल प्रभारी हैं। यूजर ने ट्वीट किया, “कैलाश विजयवर्गीय, का उल्लेख अभी तक किसी ने नहीं किया है। शायद शीर्ष नेताओं के साथ उनके घनिष्ठ संबंध उन्हें बचा रहे हैं। वह अभी भी बीजेपी बंगाल के प्रभारी हैं। जाहिर है, कलकत्ता में बीजेपी अनजान है" यूजर के ट्वीट के जवाब में बंगाल बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष तथागत रॉय ने विवादित कोलाज पोस्ट कीया है।

विवादित बयान देने के लिए जाने जाते है तथागत रॉय

तथागत रॉय ने 2002 और 2006 के बीच बंगाल में  भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर काम कर चुके है। बंगाल भाजपा के कद्दावर नेता रहे तथागत रॉय ने बंगाल में भाजपा को खड़ा करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। इस साल की शुरुआत में हुए बंगाल विधानसभा चुवाव में  भाजपा को सिर्फ 77 सीटों से ही संतोष करना पड़ा था। भाजपा को तृणमूल कांग्रेस के हाथों करारी हार का सामना  करना पड़ा था। पार्टी की हार से आहत रॉय ने चुनाव के बाद पार्टी के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष और पार्टी के केंद्रीय पर्यवेक्षकों कैलाश विजयवर्गीय, शिव प्रकाश और अरविंद मेनन को चुनावी हार के लिए जिम्मेदार बताया था। 

तथागत कर रहे हैं बंगाल भाजपा में वापसी की कोशिश

राजनीति के जानकार  बताते हैं कि तथागत रॉय राज्यपाल पद से हटने के बाद बंगाल भाजपा में वापसी की कोशिश कर रहे थे, लेकिन कैलाश विजयवर्गीय और वर्तमान बीजेपी नेतृत्व को उनकी वापसी को स्वीकार नहीं थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।