ठंड का प्रकोप जारी, राजस्थान के कई इलाकों में कड़ाके की सर्दी और कुहरे का अनुमान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 23, 2021   15:06
ठंड का प्रकोप जारी, राजस्थान के कई इलाकों में कड़ाके की सर्दी और कुहरे का अनुमान

राजस्थान के ज्यादातर इलाकों में बीते कुछ दिनों में तापमान में बढ़ोतरी से जहां लोगों को राहत मिली है वहीं मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले एक दो दिन में तापमान दो से चार डिग्री गिर सकता है और तेज ठंड पड़ सकती है।

जयपुर। राजस्थान के ज्यादातर इलाकों में बीते कुछ दिनों में तापमान में बढ़ोतरी से जहां लोगों को राहत मिली है वहीं मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले एक दो दिन में तापमान दो से चार डिग्री गिर सकता है और तेज ठंड पड़ सकती है। विभाग ने शनिवार को कई जिलों में शीतलहर व कोहरे की चेतावनी जारी की है। जयपुर मौसम केंद्र के निदेशक आर. एस. शर्मा ने बताया कि कम तीव्रता के पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव से फिलहाल राज्य के ज्यादातर स्थानों पर दिन का अधिकतम तापमान औसत से दो से चार डिग्री सेल्सियस ऊपर दर्ज किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: रिम्स ने बेहतर इलाज के लिए लालू यादव को दिल्ली एम्स भेजने का फैसला किया गया

उन्होंने कहा, लेकिन एक बार पुनः हिमालय से आने वाली उत्तरी हवाओं का प्रभाव शुरू होने से अगले एक दो दिनों में न्यूनतम तथा अधिकतम तापमान में दो से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट होने की संभावना है। उत्तरी राजस्थान के शेखावटी संभाग के जिलों में 25, 26, 27 जनवरी के दौरान न्यूनतम तापमान 3 से 4 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज होने के आसार हैं। विभाग ने अगले 24 से 48 घंटे के दौरान झुंझुनू, सीकर, अजमेर, भीलवाड़ा, बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़, चुरू व नागौर जिलों में शीत व अति शीत लहर चलने की चेतावनी जारी की है।

इसे भी पढ़ें: टेलीकॉम कंपनियों ने सरकार से पूछा, NSD के बाद नेटवर्क में सेंध के लिए किसकी जिम्मेदारी होगी?

इसके साथ ही इस दौरान इन जिलों के अलावा जयपुर, टोंक, दौसा, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर व जोधपुर जिलों में घने कोहरे की चेतावनी दी गयी है। इस बीच राज्य में बीते चौबीस घंटे में 5.3 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ पिलानी सबसे सर्द रहा। इसी तरह न्यूनतम तापमान चित्तौड़गढ़ में 8.2 डिग्री, अलवर में 8.6 डिग्री, धौलपुर में 9.8 डिग्री, गंगानगर में 9.9 डिग्री, सवाई माधोपुर में 10.0 डिग्री दर्ज किया गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।