रिम्स ने बेहतर इलाज के लिए लालू यादव को दिल्ली एम्स भेजने का फैसला किया गया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 23, 2021   14:59
रिम्स ने बेहतर इलाज के लिए लालू यादव को दिल्ली एम्स भेजने का फैसला किया गया

चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को निमोनिया होने के बाद रिम्स प्रशासन ने उन्हें दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) भेजने का फैसला किया है।

रांची। चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को निमोनिया होने के बाद रिम्स प्रशासन ने उन्हें दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) भेजने का फैसला किया है। राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) के निदेशक डा. कामेश्वर प्रसाद ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘यादव को दो दिन से सांस लेने में कुछ तकलीफ हो रही थी जिसके बाद शुक्रवार को उनकी जांच की गई और उसमें निमोनिया की पुष्टि हुई। उनकी उम्र को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए हमने उन्हें दिल्ली एम्स स्थानांतरित करने का फैसला किया है और आज ही उन्हें एम्स भेजे जाने की संभावना है। एम्स में विशेषज्ञों से हमारी बातचीत हो गयी है।’’

इसे भी पढ़ें: किसान नेताओं की हत्या की साजिश का दावा करने वाले नकाबपोश को लेकर हुआ बड़ा खुलासा

डा. प्रसाद ने कहा, ‘‘प्रशासन और यादव के परिजन उन्हें एम्स में भर्ती करने के लिए ले जाने हेतु एयर एंबुलेंस की व्यवस्था कर रहे हैं और इसकी व्यवस्था होते ही लालू प्रसाद यादव को एम्स रवाना कर दिया जायेगा।’’ इस बीच जेल प्रशासन की सलाह पर रिम्स ने आठ विभिन्न विशेषज्ञ चिकित्सकों का मेडिकल बोर्ड गठित किया है जो लालू के स्वास्थ्य की जांच कर रहा है और उसकी रिपोर्ट प्राप्त होते ही उन्हें एम्स के लिए रवाना कर दिये जाने की संभावना है।

इसे भी पढ़ें: टेलीकॉम कंपनियों ने सरकार से पूछा, NSD के बाद नेटवर्क में सेंध के लिए किसकी जिम्मेदारी होगी?

इससे पूर्व यादव के छोटे बेटे एवं बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर बताया, ‘‘ खबर मिली कि लालू जी जो सांस लेने में समस्या हो रही है, उनकी किडनी 25प्रतिशत ही काम कर रही है, हम माता और भाई के साथ रांची जा रहे है, हमने उनसे मिलने की विशेष अनुमति मांगी हैं.....।’’ जानकारी के अनुसार लालू का स्वास्थ्य लगातार बिगड़ रहा है। जिसे देखते हुए उन्हें एम्स भेजने की तैयारी चल रही है। डॉक्टरों के बोर्ड की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है,लालू को दिल्ली भेजने के लिए जेल प्रशासन को सीबीआई अदालत से भी स्वीकृति लेनी होगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।