ब्रिटेन से आए तीन लोगों में नए प्रकार के कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 29, 2020   13:19
ब्रिटेन से आए तीन लोगों में नए प्रकार के कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि

कोरोना वायरस के नए स्वरूप का पता लगाने के लिए करीब 40 नमूने सीएसआईआर-सीसीएमबी में भेजे गए थे। इनमें से तीन नमूनों में नए प्रकार के कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) -सीसीएमबी के निदेशक राकेश मिश्रा ने बताया, ‘‘ब्रिटेन से हाल में लौटे लोगों के 40 नमूने सीसीएमबी को मिले थे।

हैदराबाद। ब्रिटेन से हाल में आए तीन लोगों के नए प्रकार के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। कोशिकीय एवं आणविक जीवविज्ञान केंद्र (सीसीएमबी) ने मंगलवार को इस बारे में बताया। वायरस के नए स्वरूप का पता लगाने के लिए करीब 40 नमूने सीएसआईआर-सीसीएमबी में भेजे गए थे। इनमें से तीन नमूनों में नए प्रकार के कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) -सीसीएमबी के निदेशक राकेश मिश्रा ने पीटीआई-को बताया, ‘‘ब्रिटेन से हाल में लौटे लोगों के 40 नमूने सीसीएमबी को मिले थे। संक्रमण के कुछ नतीजे सही नहीं थे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने (वायरस के नए स्वरूप के लिए) 20 नमूनों का अनुक्रमण किया इनमें से तीन में (ब्रिटेन में मिले नए प्रकार के वायरस से) संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।’’ 

इसे भी पढ़ें: भारत में कोरोना के नए स्ट्रेन की दस्तक, ब्रिटेन से लौटे छह लोगों में पाए गए लक्षण

अधिकारी के मुताबिक बड़े पैमाने पर जांच करने की जरूरत है और लोगों को नए प्रकार के वायरस के बारे में डरना नहीं चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘यह (कोविड-19 के)नए स्वरूप का वायरस है, बाकी इसमें कुछ अलग नहीं है। यह कोई मुद्दा नहीं है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘संक्रमण के लक्षण, मृत्यु दर, हर चीज समान है। हमें बस ऐहतियात बरतने की जरूरत है।’’ उन्होने कहा कि नए प्रकार का वायरस तेजी से संक्रमण फैला सकता है। सरकार के मुताबिक नौ दिसंबर के बाद से ब्रिटेन से तेलंगाना में 1216 लोग आए हैं और उनमें से 1060 लोगों का पता लगा लिया गया है। इनमें से छह लोग दूसरे देशों और बाकी 58 लोग दूसरे राज्यों में चले गए हैं। राज्य सरकार ने 996 लोगों की जांच करवायी है इनमें से 21 लोग संक्रमित मिले और नौ लोगों के नतीजों की प्रतीक्षा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।