कांग्रेस का सरकार पर आरोप, गुजरात में टीके की भारी कमी, भाजपा ने किया खंडन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 29, 2021   15:09
कांग्रेस का सरकार पर आरोप, गुजरात में टीके की भारी कमी, भाजपा ने किया खंडन

गुजरात में सोमवार को विपक्षी कांग्रेस ने आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ भारतीय जानता पार्टी (भाजपा) के लंबे-चौड़े दावों के बावजूद, टीकाकरण कार्यक्रम के कुप्रबंधन और खराब योजना के कारण राज्य में लोगों को कोरोना वायरस के टीके नहीं मिल रहे हैं।

अहमदाबाद। गुजरात में सोमवार को विपक्षी कांग्रेस ने आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ भारतीय जानता पार्टी (भाजपा) के लंबे-चौड़े दावों के बावजूद, टीकाकरण कार्यक्रम के कुप्रबंधन और खराब योजना के कारण राज्य में लोगों को कोरोना वायरस के टीके नहीं मिल रहे हैं। गुजरात भाजपा अध्यक्ष सी आर पाटिल ने कांग्रेस के आरोप का खंडन करते हुएकहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से लोगों को टीके मिल रहे हैं क्योंकि भारतीय कंपनियां टीका उत्पादन में आत्मनिर्भर हो गयी हैं। इससे पहले दिन में, गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष अमित चावडा ने आंकड़ों का हवाला देते हुए टीकाकरण में भाजपा सरकार की ओर से कुप्रबंधन और खराब योजना का आरोप लगाया।

इसे भी पढ़ें: बंगाल में सतर्क हुई भाजपा, कार्यकर्ताओं को सोशल मीडिया पर विरोधियों से दूर रहने को कहा

उन्होंने कहा कि एक लाख खुराक की मांग के मुकाबले, अहमदाबाद शहर को केवल 10,000 खुराक मिलती है। केवल एक सप्ताह में, गुजरात टीकाकरण के मामले में गिरकर देश में सातवें स्थान पर चला गया है। उन्होंने आरोप लगाया, लोगों को लंबी कतारों में खड़े रहने के बावजूद टीका नहीं मिल रहा है। यह वास्तविकता है, जो सरकार के बड़े-बड़े दावों के बिल्कुल विपरीत है।

इसे भी पढ़ें: गर्भवती महिलाओं पर केंद्र के दिशा-निर्देशों का प्रियंका ने किया स्वागत, बोलीं- सभी के पास होना चाहिए वैक्सीनेशन का विकल्प

आरोपों का खंडन करते हुए पाटिल ने कहा कि मोदी के नेतृत्व में भारत ने दुनिया को दिखाया कि देश टीका निर्माण में कितना सक्षम है। उन्होंने कहा, हम भाग्यशाली हैं कि मोदीजी हमारे प्रधानमंत्री हैं, उन्होंने टीका उत्पादन बढ़ाने के बारे में त्वरित निर्णय लिए। मुझे आश्चर्य है कि अगर कांग्रेस सत्ता में होती तो इसके लिए कितने साल लगते।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...