‘टूलकिट’ मामले में दिल्ली पुलिस की जांच को कांग्रेस ने गैरकानूनी बताया, जांच से खुद को हटाया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 28, 2021   08:29
‘टूलकिट’ मामले में दिल्ली पुलिस की जांच को कांग्रेस ने गैरकानूनी बताया, जांच से खुद को हटाया

‘टूलकिट’ मामले में भाजपा नेताओं के खिलाफ अपनी प्रारंभिक शिकायत के नौ दिन बाद कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को जांच से खुद को हटा लिया और दिल्ली पुलिस की शुरुआती जांच को अवैध तथा कानून का उल्लंघन करने वाला बताया।

नयी दिल्ली। ‘टूलकिट’ मामले में भाजपा नेताओं के खिलाफ अपनी प्रारंभिक शिकायत के नौ दिन बाद कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को जांच से खुद को हटा लिया और दिल्ली पुलिस की शुरुआती जांच को अवैध तथा कानून का उल्लंघन करने वाला बताया। कांग्रेस नेता राजीव गौड़ा और रोहन गुप्ता ने दिल्ली पुलिस आयुक्त को पत्र लिखकर सभी दस्तावेज छत्तीसगढ़ भेजने की मांग की जहां भाजपा नेताओं रमन सिंह तथा संबित पात्रा के खिलाफ एक ‘झूठी और मनगढंत’ टूलकिट प्रसारित करने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

इसे भी पढ़ें: भारत सरकार बनाम ट्विटर: केंद्र ने कहा- सोशल मीडिया और फोन कॉल पर नजर रखने के लिए कोई नया नियम नहीं

गौड़ा और गुप्ता ने दावा किया कि उच्चतम न्यायालय ने पहले व्यवस्था दी थी कि प्रथम प्राथमिकी के तहत जांच की जाएगी और एक ही अपराध में दूसरी प्राथमिकी दर्ज नहीं की जा सकती।

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश की 22,813 ग्राम पंचायतों में से 90 प्रतिशत ग्राम पंचायतें कोरोना मुक्त

गौड़ा ने ट्विटर पर पत्र साझा करते हुए लिखा, ‘‘दिल्ली पुलिस हमारी शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज करने में विफल रही। हम छत्तीसगढ़ में दर्ज प्राथमिकी में पक्ष हैं और वहां मामले को देख रहे हैं। अपनी जांच जारी रखकर दिल्ली पुलिस कानून और उच्चतम न्यायालय के फैसलों का उल्लंघन कर रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।