इमरान खान की भाषा बोलते हैं कांग्रेस के सभी नेता: उत्तरप्रदेश के उपमुख्यमंत्री

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 23, 2020   08:32
इमरान खान की भाषा बोलते हैं कांग्रेस के सभी नेता: उत्तरप्रदेश के उपमुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कांग्रेस सीएए के बारे में झूठ फैलाकर मुस्लिम तुष्टिकरण की घटिया राजनीति कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के दौरान जनता को धोखा देकर और झूठ बोलकर कांग्रेस ने चुनाव जीता और अपना वादा पूरा नहीं किया।

रायपुर। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि कांग्रेस नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के बारे में झूठ फैलाकर मुस्लिम तुष्टिकरण की घटिया राजनीति कर रही है। मौर्य ने बुधवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘जो भाषा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान बोलते हैं, वही भाषा लगभग कांग्रेस के सभी नेता बोलते हैं। मैं यह मानता हूं कि सीएए का यह विरोध बौखलाहट में और खिसियाहट में किया जा रहा है।’’

इसे भी पढ़ें: CAA को चंद्रशेखर ने बताया काला कानून, बोले- अगले 10 दिन में होंगे 5,000 और शाहीनबाग

उन्होंने आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के दौरान जनता को धोखा देकर और झूठ बोलकर कांग्रेस ने चुनाव जीता और अपना वादा पूरा नहीं किया। उसी प्रकार से झूठ बोलना और झूठ के आधार पर अफवाह फैलाकर तथा राजनीतिक फायदा प्राप्त करने के लिए वह मुस्लिम तुष्टिकरण की घटिया राजनीति कर रहे हैं। भाजपा नेता ने कहा कि देश में कांग्रेस और अन्य प्रतिद्धंद्वी पार्टियों की पहचान झूठ और अफवाह फैलाने वालों जैसी बन गयी है। हम इनके कारनामों को जनता के बीच में ले जाने के लिए कार्यकर्ताओं और समर्थकों से भी अपील कर रहे हैं। यह जन-जन तक पहुंचे कि किस प्रकार से यह झूठ बोलकर देश को धोखा दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि बहुत सारे लोग सीएए के विरोध में सर्वोच्च अदालत में गए। उच्चतम न्यायालय ने सीएए पर रोक लगाने से इंकार कर दिया है। जिस तरह से कांग्रेसियों के मुंह पर तमाचा देश की जनता ने मारा है, देश की सर्वोच्च अदालत ने भी देश के हित में लिए गए फैसले पर अपना मुहर लगाने का काम किया है। कांग्रेस सहित अन्य विरोधी दल के पास इस मुद्दे पर बोलने के लिए कोई नैतिक अधिकार नहीं बचा है। 

इसे भी पढ़ें: CAA पर SC के फैसले के बाद बोले शाहीन बाग के प्रदर्शनकारी, हम भी रखना चाहते हैं अपना पक्ष

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का सीएए को लेकर विरोध के विषय में पूछे गए सवाल पर मौर्य ने कहा कि अगर यहां के मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि वह इस संबंध में संकल्प पारित करावाएंगे तब उन्हें अपनी सीमा रेखा की शायद जानकारी नहीं है कि विधानसभा का काम क्या है, संसद का काम क्या है। जो संसद का काम है उसे विधानसभा में करने की बात करना छत्तीसगढ़ की जनता का समस्याओं से ध्यान बंटाने की कोशिश है।उन्होंने कहा कि अभी एनआरसी नहीं है, आगे आने वाले समय में क्या होगा यह कह नहीं सकते हैं। राहुल गांधी जी को एनआरसी क्या है, एनपीआर और सीएए क्या है यह पता नहीं है। कांग्रेस का कोई भी नेता किसी भी विषय को पढ़े बगैर, देखे बगैर, जाने बगैर कुछ भी बोलते रहते हैं।

इसे भी देखें: केंद्र का पक्ष सुनकर ही CAA पर कोई फैसला करेगा Supreme Court, समझिये पूरा मामला





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।