• मैं भी सीएम बनना चाहता था लेकिन कभी-कभी इच्छाओं को दबाना पड़ता है: भंवर लाल शर्मा

अंकित सिंह Jun 15, 2021 13:33

उन्होंने स्पष्ट किया है कि वह भाजपा में शामिल नहीं होंगे। मेरा मानना ​​है कि कुछ कनिष्ठ नेताओं ने कुछ बड़े पदों पर कब्जा कर लिया है, जिससे पार्टी को नुकसान होने वाला है। वरिष्ठतम नेताओं को उचित सम्मान दिया जाना चाहिए।

राजस्थान कांग्रेस में जारी अंतर्कलह और मंत्रिमंडल विस्तार के कयासों के बीच विधायक भंवर लाल शर्मा ने बड़ा बयान दिया है। मंत्रिमंडल विस्तार पर बयान देते हुए भंवर लाल शर्मा ने कहा कि एक कहावत है एक अनार-सौ बीमार। लेकिन यहां 25 बीमार (आकांक्षी) हैं। कितनों को मंत्री बनाया जाएगा। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक भंवर लाल शर्मा ने कहा कि सचिन पायलट साहब ने कभी अपने लिए किसी पद की मांग नहीं की। उन्होंने स्पष्ट किया है कि वह भाजपा में शामिल नहीं होंगे। मेरा मानना ​​है कि कुछ कनिष्ठ नेताओं ने कुछ बड़े पदों पर कब्जा कर लिया है, जिससे पार्टी को नुकसान होने वाला है। वरिष्ठतम नेताओं को उचित सम्मान दिया जाना चाहिए।

भंवर लाल शर्मा ने कहा कि राजस्थान में जो घटनाक्रम चल रहा है, इस पर मैं कहना चाहता हूं कि मैं किसी गुट या पार्टी से बंधा हुआ नहीं हूं मैं सिर्फ कांग्रेस से बंधा हुआ हूं। अभी कोविड की जो हालात है उसे CM ने अच्छे से नियंत्रित किया है। इस परिस्थिति में सत्ता संर्घष नहीं करना चाहिए। अभी सभी कांग्रेस को एक साथ होकर बीजेपी से मुकाबला करना चाहिए ताकि आने वाले समय में कांग्रेस दोबारा आए। अगले 2 महीने तक कुछ नहीं होने वाला है क्योंकि सीएम किसी से नहीं मिल रहे हैं। मैं भी सीएम बनना चाहता था लेकिन कभी-कभी हमें अपनी इच्छाओं को दबाना पड़ता है।