पुलिस डिटेंशन सेंटर में कांग्रेस संसदीय दल की बैठक, हिरासत में लिए गए नेताओं ने GST, मूल्य वृद्धि समेत तमाम मुद्दों पर की विस्तृत चर्चा

Congress
ANI Image
किंग्सवे कैंप में दिल्ली पुलिस डिटेंशन सेंटर के भीतर ही हिरासत में लिए गए कांग्रेस नेताओं ने संसदीय दल की अनौपचारिक बैठक की। जहां पर जीएसटी, मूल्य वृद्धि, अग्निपथ, राष्ट्रीय सुरक्षा और अन्य मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की। बता दें कि सोनिया गांधी के खिलाफ ईडी की कार्रवाई को लेकर तमाम नेता विरोध प्रदर्शन कर रहे थे।

नयी दिल्ली। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी से बुधवार को भी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने नेशनल हेराल्ड केस को लेकर पूछताछ की। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, जांच एजेंसी की सोनिया गांधी के साथ पूछताछ खत्म हो चुकी है। तीसरे दिन ईडी ने सोनिया गांधी से 3 घंटे तक पूछताछ की और अगला समन जारी होने तक कांग्रेस अध्यक्षा को जांच एजेंसी के समक्ष अब पेश नहीं होना पड़ेगा।

इसे भी पढ़ें: नेशनल हेराल्ड मामला : ईडी ने सोनिया गांधी से तीसरे दिन तीन घंटे तक पूछताछ की

सोनिया गांधी के खिलाफ ईडी की कार्रवाई को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं ने तीसरे दिन भी जमकर विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेस ने इस विरोध प्रदर्शन को सत्याग्रह का नाम दिया, जो देशभर में चल रहा है। इस दौरान कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी, केसी वेणुगोपाल समेत कई नेताओं को हिरासत में लिया गया। दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिए गए नेताओं को किंग्सवे कैंप में रखा है।

इसे भी पढ़ें: सोनिया गांधी की ईडी से पूछताछ के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन सच्चाई को छुपाने का प्रयास: नड्डा

डिटेंशन सेंटर में कांग्रेस की बैठक

आपको बता दें कि किंग्सवे कैंप में दिल्ली पुलिस डिटेंशन सेंटर के भीतर ही हिरासत में लिए गए कांग्रेस नेताओं ने संसदीय दल की अनौपचारिक बैठक की। जहां पर जीएसटी, मूल्य वृद्धि, अग्निपथ, राष्ट्रीय सुरक्षा और अन्य मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की। इसका वीडियो भी सामने आया है। जिसमें मल्लिकार्जुन खड़गे, केसी वेणुगोपाल, अधीर रंजन चौधरी, जयराम रमेश समेत तमाम कांग्रेसी दिखाई दे रहे हैं।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़