कांग्रेस का वादा, गुजरात की सत्ता में आने पर पुरानी पेंशन योजना को लागू करेंगे

sonia rahul
ANI
कांग्रेस की गुजरात इकाई के वरिष्ठ नेता अर्जुन मोढवाडिया ने कहा कि मान ओपीएस वापस लाने पर विचार कर रहे हैं, जबकि राजस्थान और छत्तीसगढ़ की सरकारें इसे पहले ही लागू कर चुकी हैं।
अहमदाबाद। कांग्रेस यदि गुजरात की सत्ता में आती है तो वह राज्य में पुरानी पेंशन योजना (ओपीएस) को उसी तरह लागू करेगी, जैसे छत्तीसगढ़ और राजस्थान में उसकी सरकारों ने किया है। पार्टी के नेताओं ने सोमवार को यह बात कही। राज्य में दिसंबर में विधानसभा चुनाव प्रस्तावित है। कांग्रेस ने भी उसी दिन पुरानी पेंशन योजना को लागू करने की बात कही, जब पंजाब के मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी (आप) के नेता भगवंत मान ने ट्वीट किया, ‘‘मेरी सरकार पुरानी पेंशन योजना (ओपीएस) को वापस लाने पर विचार कर रही है।’’ 

इसे भी पढ़ें: भाजपा में शामिल हुए पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह, तोमर और रिजिजू ने दिलाई सदस्यता

कांग्रेस की गुजरात इकाई के वरिष्ठ नेता अर्जुन मोढवाडिया ने कहा कि मान ओपीएस वापस लाने पर विचार कर रहे हैं, जबकि राजस्थान और छत्तीसगढ़ की सरकारें इसे पहले ही लागू कर चुकी हैं। मोढवाडिया ने पत्रकारों से कहा, ‘‘गुजरात में सत्ता में आने पर कांग्रेस भी ऐसा ही करेगी। मैंने उनका (मान का) ट्वीट देखा है। उन्होंने सिर्फ इतना कहा है कि वह इस पर विचार करेंगे। उन्होंने न तो कोई घोषणा की है और न ही इसके लिए कोई सरकारी प्रस्ताव जारी किया है और न ही कोई निर्णय लिया है। दूसरी ओर, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकारों ने इसे लागू किया है।’’ 

इसे भी पढ़ें: रिजर्वेशन पर सुशील कुमार शिंदे ने दे दिया ऐसा बयान, कांग्रेस की बढ़ सकती है मुश्किलें

गुजरात के कांग्रेस प्रभारी रघु शर्मा ने कहा, ‘‘राजस्थान सरकार और हमारे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पिछले बजट के दौरान पुरानी पेंशन योजना को लागू करने की घोषणा की थी। छत्तीसगढ़ में भी हमारी सरकार ने ओपीएस को लागू किया है। गुजरात के उन सभी कर्मचारियों से हमारा वादा है कि सत्ता में आने पर हम यहां भी ऐसा ही करेंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़