भाजपा सांसद रीति पाठक ने आखिर क्यों पहनी काली साड़ी ? अब जवाब देते-देते हो गईं परेशान

Riti Pathak
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
अनुराग गुप्ता । Aug 06, 2022 12:22PM
भाजपा की सीधी सांसद रीति पाठक ने शुक्रवार को काले रंग की साड़ी पहनी थी। ऐसे में रीति पाठक से साथी महिला सांसदों ने पूछा कि क्या वह विरोध प्रदर्शन में शामिल हो रही हैं। ऐसे में रीति पाठक को काफी ज्यादा शर्मिंदिगी हुई और वह साथी सांसदों को समझाती रह गईं कि उन्होंने अनजाने में काली साड़ी पहनी है।

नयी दिल्ली। कांग्रेस ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ महंगाई, बेरोजगारी और जीएसटी को लेकर सड़क से संसद तक विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेस सांसदों ने काले रंग के कपड़े पहने। दरअसल, यह विरोध प्रदर्शन शुक्रवार को हुआ। इस दौरान भाजपा की एक सांसद काले रंग की साड़ी पहनकर पहुंच गई। जिसके बाद उनसे तमाम तरह के सवाल पूछे गए।

इसे भी पढ़ें: ईडी एक संवैधानिक संस्था, सम्मान करे कांग्रेस : पूनिया 

भाजपा की सीधी सांसद रीति पाठक ने शुक्रवार को काले रंग की साड़ी पहनी थी। ऐसे में रीति पाठक से साथी महिला सांसदों ने पूछा कि क्या वह विरोध प्रदर्शन में शामिल हो रही हैं। ऐसे में रीति पाठक को काफी ज्यादा शर्मिंदिगी हुई और वह साथी सांसदों को समझाती रह गईं कि उन्होंने अनजाने में काली साड़ी पहनी है।

रीति पाठक के अलावा द्रमुक के एम कनिमोझी ने भी काले रंग के कपड़े पहने थे। जबकि द्रमुक विरोध प्रदर्शन का हिस्सा नहीं थी। हालांकि कांग्रेस सदस्यों को यह सुनते हुए देखा गया कि एम कनिमोझी हमारे साथ हैं। बसपा की संगीता आजाद ने भी काली साड़ी पहनी थी लेकिन वो धरने में शामिल नहीं हुईं।

इसे भी पढ़ें: महंगाई, बेरोजगारी और अग्निपथ योजना को लेकर केंद्र के खिलाफ कांग्रेस का धरना 

कांग्रेस का काले कपड़ों में विरोध

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांध काले रंग की हाफ शर्ट पहने हुए थे तो महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने काले रंग की सलवार-कमीज और दुपट्टा पहन रखा था। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने काले रंग का कुर्ता और इसी रंग का साफा भी बांध रखा था।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़