भारतीय युवा कांग्रेस और अखिल भारतीय छात्र संघ ने किया रेल भवन के बाहर प्रदर्शन

Indian Railways
प्रदर्शनकारियों ने पुलिस की कार्रवाई की निंदा की और नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों के विरुद्ध दर्ज प्राथमिकी को वापस लेने की मांग की।

नयी दिल्ली|  भारतीय युवा कांग्रेस और वाम समर्थित अखिल भारतीय छात्र संघ (आइसा) ने, रेलवे भर्ती परीक्षा में कथित तौर पर हुई अनियमितताओं के विरोध में प्रदर्शन करने वालों पर पुलिस की बर्बरता के खिलाफ शुक्रवार को यहां रेल भवन के बाहर प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनकारियों ने पुलिस की कार्रवाई की निंदा की और नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों के विरुद्ध दर्ज प्राथमिकी को वापस लेने की मांग की।

भर्ती प्रक्रिया में अनियमितता का आरोप लगाते हुए कुछ राज्यों में उम्मीदवारों ने हंगामा मचाया था जिसके बाद रेलवे ने 26 जनवरी को एनटीपीसी और स्तर-एक परीक्षा रद्द कर दी थी।

इसके बाद रेलवे मंत्री अश्विनी वैष्णव ने आग्रह किया था कि उम्मीदवार सार्वजनिक संपत्ति को नष्ट न करें और उनकी समस्या को सुलझाने का आश्वासन दिया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़