महाराष्ट्र में कोरोना लॉकडाउन पाबंदियां 31 दिसंबर तक बढ़ायी गयीं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2020   20:18
  • Like
महाराष्ट्र में कोरोना लॉकडाउन पाबंदियां 31 दिसंबर तक बढ़ायी गयीं

पिछले दो-तीन महीनों में सरकार ने लॉकडाउन पाबंदियों में कुछ ढील दी है। विज्ञप्ति के अनुसार संशोधित दिशानिर्देश समय-समय पर जारी किये गये हैं और ‘फिर शुरू करें मिशन’ के तहत विभिन्न गतिविधियों की बहाली की इजाजत दी गयी।

मुम्बई। महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना वायरस के मद्देनजर राज्य में लागू लॉकडाउन की अवधि शुक्रवार को 31 दिसंबर, 2020 तक के लिए बढ़ा दी। एक सरकारी विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गयी। पिछले दो-तीन महीनों में सरकार ने लॉकडाउन पाबंदियों में कुछ ढील दी है। विज्ञप्ति के अनुसार संशोधित दिशानिर्देश समय-समय पर जारी किये गये हैं और ‘फिर शुरू करें मिशन’ के तहत विभिन्न गतिविधियों की बहाली की इजाजत दी गयी।

इसी सप्ताह के प्रारंभ में सरकार ने उपासना स्थलों को खोलने की अनुमति दी थी। राज्य के कुछ हिस्सों में नौंवी से लेकर 12वीं तक की कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए विद्यालय भी खोले गये हैं। होटलों एवं बारों को पहले ही खोलने की अनुमति दी जा चुकी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


तेजपुर विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में PM मोदी ने सुनाई टीम इंडिया के संघर्ष की दास्तां, युवाओं को दिया यह मंत्र

  •  अनुराग गुप्ता
  •  जनवरी 22, 2021   11:37
  • Like
तेजपुर विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में PM मोदी ने सुनाई टीम इंडिया के संघर्ष की दास्तां, युवाओं को दिया यह मंत्र

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस टूर में क्या-क्या चुनौतियां नहीं आई, हमारी बहुत बुरी हार हुई लेकिन उतनी ही तेजी से हम उभरे भी और अगले मैच में जीत भी दर्ज की। चोट लगने के बावजूद हमारे खिलाड़ी मैदान में डटे रहे।

गुवाहाटी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तेजपुर विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम की जमकर सराहना की और उनके संघर्ष को सभी के समक्ष रखा। उन्होंने छात्रों को आगे बढ़ने की प्रेरणा भी दी। उन्होंने कहा कि आज 1200 से ज्यादा छात्रों के लिए जीवन भर याद रहने वाला क्षण है। आपके शिक्षक, आपके माता पिता के लिए भी आज का दिन बहुत अहम है। सबसे बड़ी बात आज से आपके कॅरियर के साथ तेजपुर विश्वविद्यालय का नाम हमेशा के लिए जुड़ गया है।  

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने PM मोदी के असम दौरे से पहले दागे 24 सवाल, कही यह अहम बात 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस टूर में क्या-क्या चुनौतियां नहीं आई, हमारी बहुत बुरी हार हुई लेकिन उतनी ही तेजी से हम उभरे भी और अगले मैच में जीत भी दर्ज की। चोट लगने के बावजूद हमारे खिलाड़ी मैदान में डटे रहे। चुनौतियां का हमारे युवा खिलाड़ियों ने सामना किया और उसका समाधान ढूंढा। कुछ खिलाड़ियों में अनुभव जरूर कम था लेकिन हौसला उतना ही बुलंद दिखा। उन्हें जैसे ही मौका मिला उन्होंने इतिहास बना दिया। 

इसे भी पढ़ें: पत्रकारों और मीडियाकर्मियों को नि:शुल्क कोरोना टीका लगाने कमलनाथ ने की मांग 

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि भारतीय टीम ने अनुभवी टीम को पराजित कर दिया। युवा साथियों क्रिकेट के मैदान पर हमारे खिलाड़ियों की यह प्रतिभा सिर्फ खेल के लिहाज से ही महत्वपूर्ण नहीं है बल्कि एक लाइव लेशन भी है। पहला लेशन यह कि हमें विश्वास होना चाहिए। दूसरा यह कि हमें सकारात्मक विचारों के साथ आगे बढ़ना चाहिए क्योंकि उसका परिणाम भी सकारात्मक आता है। तीसरा यह कि अगर आपके पास एक तरफ सेफ निकल जाने का विकल्प हो और दूसरी तरफ मुश्किल जीत का विकल्प हो तो आपको जीत का विकल्प जरूर चुनना चाहिए और अगर जीतने की कोशिश में कभी-कभार असफलता भी हाथ लगे तो उसमें कोई नुकसान नहीं है। रिस्क लेने से कोई नुकसान नहीं है। हमें अपने भीतर के असफलता के डर को बाहर निकालना होगा।

यहां सुने पूरा संबोधन: 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


कांग्रेस कार्य समिति की बैठक आरंभ, नए अध्यक्ष को लेकर स्थिति स्पष्ट होने की संभावना

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 22, 2021   11:32
  • Like
कांग्रेस कार्य समिति की बैठक आरंभ, नए अध्यक्ष को लेकर स्थिति स्पष्ट होने की संभावना

कांग्रेस की शीर्ष नीति निर्धारण इकाई कांग्रेस कार्य समिति (सीडल्यूसी) की बैठक शुक्रवार को आरंभ हुई जिसमें पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव को लेकर स्थिति स्पष्ट होने की संभावना है।

नयी दिल्ली। कांग्रेस की शीर्ष नीति निर्धारण इकाई कांग्रेस कार्य समिति (सीडल्यूसी) की बैठक शुक्रवार को आरंभ हुई जिसमें पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव को लेकर स्थिति स्पष्ट होने की संभावना है। सूत्रों ने बताया कि इस बैठक में नए अध्यक्ष के चुनाव के साथ साथ किसान आंदोलन और कुछ अन्य मुद्दों पर भी चर्चा हो सकती है। माना जा रहा है कि इस बैठक में अध्यक्ष के चुनाव को हरी झंडी दी जा सकती है और चुनाव तिथि का ऐलान भी हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: राहुल गांधी ने कर्नाटक विस्फोट पर जताया दुख, बोले- इस तरह की घटनाओं की होनी चाहिए गहन जांच

गौरतलब है कि पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। बिहार विधानसभा चुनाव और कुछ राज्यों के उप चुनावों में कांग्रेस के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद गुलाम नबी आजाद और कपिल सिब्बल जैसे कुछ वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी के सक्रिय अध्यक्ष की नियुक्ति की मांग फिर उठाई।

इसे भी पढ़ें: ममता बनर्जी ने असदुद्दीन ओवैसी को बताया भाजपा की 'बी टीम', बोलीं- बंगाल में नहीं होगा कोई असर

वैसे, कांग्रेस नेताओं का एक बड़ा धड़ा लंबे समय से इस बात की पैरवी कर रहा है कि राहुल गांधी को फिर से कांग्रेस की कमान संभालनी चाहिए। कांग्रेस महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने हाल ही में कहा था कि कांग्रेस के 99.99 प्रतिशत लोग चाहते हैं कि राहुल गांधी फिर से उनका नेतृत्व करें।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


झारखंड में उग्रवादी संगठन ने खुल्लेआम चिपकाए अपने पोस्टर, पुलिस ने दो को धर-दबौचा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 22, 2021   11:25
  • Like
झारखंड में उग्रवादी संगठन ने खुल्लेआम चिपकाए अपने पोस्टर, पुलिस ने दो को धर-दबौचा

लोहरदगा के गुदरी बाजार इलाके में पिछले दिनों उग्रवादी संगठन पीएलएफआई का पोस्टर लगाने वाले दो लोगों को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया।

लोहरदगा (झारखंड)। लोहरदगा के गुदरी बाजार इलाके में पिछले दिनों उग्रवादी संगठन पीएलएफआई का पोस्टर लगाने वाले दो लोगों को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने बताया कि 13 जनवरी को इलाके में तीनों स्थानों पर पोस्टर लगाने वालों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।

इसे भी पढ़ें: इलाहाबाद हाई कोर्ट का बड़ा फैसला, शादीशुदा होकर भी Live-In-Relationship में रहना अपराध 

घटना के बाद पुलिस अधीक्षक प्रियंका मीना ने आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम गठित की थी। जांच के दौरान आसपास के सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला गया। लोहरदगा के थाना प्रभारी मंटू कुमार ने बताया कि मामले में शर्मा मुण्डा और बाबुलाल उरॉव को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept