मनोहर लाल खट्टर का ऐलान, कुरुक्षेत्र में बनेगा भारत माता का मंदिर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 25, 2019   19:53
मनोहर लाल खट्टर का ऐलान, कुरुक्षेत्र में बनेगा भारत माता का मंदिर

कुरुक्षेत्र में चल रहे अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2019 के संबंध में संवादाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए खट्टर ने कहा कि भारत माता का मंदिर करीब पांच एकड़ जमीन पर बनेगा और यह ज्योतिसर और ब्रह्मसरोवर के बीच कहीं होगा।

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कुरुक्षेत्र को धर्म और सांस्कृतिक पर्यटन का केंद्र बताते हुए कहा कि सरकार इस पवित्र शहर में भारत माता का मंदिर बनाएगी। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही सरकार यहां आने वाले सभी तीर्थ यात्रियों को सभी सुविधाएं देने के लिए आधारभूत संरचना का विकास करेगी। 

कुरुक्षेत्र में चल रहे अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2019 के संबंध में संवादाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए खट्टर ने कहा कि भारत माता का मंदिर करीब पांच एकड़ जमीन पर बनेगा और यह ज्योतिसर और ब्रह्मसरोवर के बीच कहीं होगा। अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव की शुरुआत 23 नवंबर को हुई और यह 10 दिसंबर तक चलेगा।  खट्टर ने प्रस्तावित मंदिर के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘भारत माता का मंदिर लोगों के लिए प्रमुख सांस्कृतिक केंद्र और एकता का प्रतीक होगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि कुरुक्षेत्र को प्रमुख पर्यटन स्थल और लोगों के बीच धार्मिक विश्वास के केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए सरकार नयी नीति बना रही है जिसके तहत विभिन्न राज्यों को 1,500 से 2,000 वर्ग मीटर जमीन रियायती दर पर आवंटित की जाएगी ताकि वे वहां जाने वाले यात्रियों के लिए ‘भवनों’ का निर्माण कर सके। 

इसे भी पढ़ें: हरियाणा की बीजेपी-जेजेपी गठबंधन को कांग्रेस ने बताया अवसरवादी मेल, ज्यादा दिन नहीं चलेगी सरकार

खट्टर ने बताया कि गीता महोत्सव में भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह राहत सहित विभिन्न हस्तियां भी शामिल होंगी। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड इस वर्ष महोत्सव में साझेदार राज्य है और 15 अन्य देश के प्रतिनिधि भी महोत्सव में शामिल हो रहे हैं। खट्टर ने बताया कि विभिन्न देशों के राजदूत और राजनयिक सहित विदेशी मेहमान भी गीता महोत्सव में शामिल होंगे। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।