दिल्ली में कोरोना के 28,867 नए मामले दर्ज, 31 मरीजों ने तोड़ा अपना दम, पॉज़िटिविटी रेट में भी हुआ इजाफा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 13, 2022   21:05
दिल्ली में कोरोना के 28,867 नए मामले दर्ज, 31 मरीजों ने तोड़ा अपना दम, पॉज़िटिविटी रेट में भी हुआ इजाफा
प्रतिरूप फोटो

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, दिल्ली में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 31 मरीजों की मौत दर्ज की गई और इस अवधि में संक्रमण दर बढ़कर 29.21 प्रतिशत हो गई। दिल्ली में पिछले साल 20 अप्रैल को संक्रमण के 28,395 मामले दर्ज किए गए थे।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 28,867 नए मामले सामने आए जो महामारी की शुरुआत के बाद एक दिन में सामने आए सर्वाधिक मामले हैं। राष्ट्रीय राजधानी में पिछले चार दिनों में सात बच्चों की भी कोविड के कारण मौत हो गई, जिनमें से तीन बच्चे एक साल से भी कम आयु के थे। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, दिल्ली में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 31 मरीजों की मौत दर्ज की गई और इस अवधि में संक्रमण दर बढ़कर 29.21 प्रतिशत हो गई। दिल्ली में पिछले साल 20 अप्रैल को संक्रमण के 28,395 मामले दर्ज किए गए थे। 

इसे भी पढ़ें: राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत में बोले PM मोदी, हम भारत के 130 करोड़ लोग अपने प्रयासों से कोरोना से जीतेंगे

विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, बृहस्पतिवार की संक्रमण दर तीन मई के बाद से सर्वाधिक रही, जोकि तब 29.6 प्रतिशत रही थी। इसके मुताबिक, जनवरी के महीने में अब तक 164 मरीजों की इस घातक वायरस के कारण मौत हो चुकी है। इस बीच, पिछले चार दिनों में सात बच्चों की भी कोविड के कारण मौत हो गई, जिनमें से तीन बच्चे एक साल से भी कम आयु के थे। 

इसे भी पढ़ें: पुलिस कर्मियों भी अब कोरोना की चपेट में, 12 दिन में 227 जवान संक्रमित 

कोविड के कारण अपनी नौ महीने की बेटी को खोने वाले सुनील कुमार (बदला हुआ नाम) ने पीटीआई-से कहा, हमें नहीं पता कि कैसे हमारी छोटी सी बच्ची संक्रमण की चपेट में आ गई। ना ही मैं और ना ही मेरी पत्नी संक्रमित हैं। वजीराबाद निवासी कुमार अपनी बेटी का चेकअप कराने संत परमानंद अस्पताल गए थे, जहां परीक्षण में सात जनवरी को बच्ची संक्रमित पाई गई। उसे अगले दिन लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां नौ जनवरी को उसकी मौत हो गई।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।