• भाजपा और AAP ने कांग्रेस को घेरा, पूछा- क्या सि्द्धू ने केवल कुर्सी के लिए अमरिंदर पर साधा निशाना

पार्टी में अंदरूनी कलह के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के कड़े विरोध के बावजूद रविवार को सिद्धू को पार्टी की पंजाब इकाई का नया अध्यक्ष नियुक्त कर दिया।

चंडीगढ़। पंजाब के विपक्षी दलों ने सोमवार को कांग्रेस पर उसकी अंदरूनी कलह को लेकर निशाना साधा। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने जहां नवजोत सिंह सिद्धू से सवाल किया कि क्या उन्होंने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर आरोप केवल सत्ता ‘हथियाने’के लिए लगाए थे। वहीं आम आदमी पार्टी (आप) ने कहा कि सत्तारूढ़ दल के नेताओं को राज्य के मुद्दों को लेकर कभी चिंता नहीं थी। पार्टी में अंदरूनी कलह के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के कड़े विरोध के बावजूद रविवार को सिद्धू को पार्टी की पंजाब इकाई का नया अध्यक्ष नियुक्त कर दिया। पंजाब भाजपा प्रमुख अश्विनी शर्मा ने सिद्धू की पदोन्नति पर कटाक्ष किया। 

इसे भी पढ़ें: पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद बोले सिद्धू, आलाकमान के 18 सूत्रीय एजेंडा करेंगे लागू 

उन्होंने कहा कि पंजाब में ‘कांग्रेस’ की जगह अब ‘जुमले और चुटकुलों’की नयी सरकार है। शर्मा ने सवाल किया कि सिद्धू ने जो आरोप मुख्यमंत्री के खिलाफ लगाए थे वे क्या उन्हें प्रदेश कांग्रेस प्रमुख बनाए जाने के बाद ‘‘समाप्त’’ हो गए हैं या वे सिर्फ ‘‘कुर्सी हथियाने’’ के लिए लगाए गए थे। आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं पंजाब मामलों के सह प्रभारी राघव चड्ढा ने कहा कि ‘‘साढ़े चार साल बर्बाद करने के बाद अब हमें उम्मीद है कि सत्ताधारी कांग्रेस बचे हुए कुछ महीनों का इस्तेमाल लोगों और राज्य की भलाई के लिए करेगी।