दुर्गा पूजा को अंतरराष्ट्रीय उत्सव के रूप में मिले मान्यता, बंगाल सरकार ने यूनेस्को से की अपील

Durga Puja
अंकित सिंह । Aug 25, 2021 12:33PM
अब यही कारण है कि पश्चिम बंगाल सरकार का पर्यटन विभाग संयुक्त राष्ट्र संघ के वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन यानी कि यूनेस्को से इस सर्वश्रेष्ठ बंगाली त्यौहार को अंतरराष्ट्रीय मान्यता देने की अपील की है।

दुर्गा पूजा अब सिर्फ पश्चिम बंगाल का त्यौहार पूरे देश का त्यौहार बन चुका है। दुर्गा पूजा को लेकर जितना उत्सव बंगालियों के जीवन में होता हैं उतना ही अब बाकी राज्यों में भी देखने को मिलता है। हालांकि यह बात भी सच है कि विदेशों में जहां भारत के लोग रहते हैं वहां भी दुर्गा पूजा का क्रेज लगातार बढ़ रहा है। भले ही कहा जाता है कि दुर्गा पूजा हिंदुओं का त्यौहार है। लेकिन अब यह जाति-धर्म से ऊपर उठ चुका है। दुर्गा पूजा को लेकर सभी धर्मों में उत्साह रहता है।

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करनेवाला देश का पहला राज्य बना कर्नाटक: मुख्यमंत्री बोम्मई

अब यही कारण है कि पश्चिम बंगाल सरकार का पर्यटन विभाग संयुक्त राष्ट्र संघ के वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन यानी कि यूनेस्को से इस सर्वश्रेष्ठ बंगाली त्यौहार को अंतरराष्ट्रीय मान्यता देने की अपील की है। पश्चिम बंगाल के पर्यटन मंत्री इंद्रनिल सेन ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी दुर्गा पूजा को कोलकाता से लेकर अलग-अलग जिलों तक तथा दूर दराज के गांव के साथ-साथ दुनिया के कोणों में भी आगे बढ़ा रही हैं। दुर्गा पूजा का अंत अपने आप में दिलचस्प होता है। यही कारण है कि पर्यटन विभाग का की ओर से अर्जी यूनेस्को को दी गई है। बंगाल सरकार के प्रशासनिक सूत्रों की माने तो केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय के माध्यम से हाल में ही आवेदन सही जगह पर पहुंच गया है।  

इसे भी पढ़ें: उत्तरी बंगाल के लिए केंद्रशासित प्रदेश की मांग पर लोगों को सोचना चाहिए: प्रमाणिक

इस मामले को लेकर विभिन्न देशों के प्रतिनिधि राज्य सरकार के आवेदन के आधार पर मूल्यांकन करेंगे। सांस्कृतिक आधार पर देखें तो यूनेस्को ने अब तक दुनिया भर में 6 त्यौहारो को मान्यता दी है। इनमें फ्रांस, बेल्जियम, स्विटजरलैंड, ब्राजील, बोलीविया जैसे देश शामिल है। कुछ साल पहले ही दुर्गा पूजा को नेशनल ज्योग्राफिक चैनल द्वारा मेगा फेस्टिवल के रूप में मान्यता दी गई थी। यहां अनेकता में एकता के विचार में यूनेस्को के अधिकारियों की ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़