• ईडी ने सोना तस्करी मामले में मुख्यमंत्री का नाम लेने का दबाव डाला : नैयर

अन्य आरोपियों के साथ पिछले साल जुलाई में गिरफ्तार किए गए नैयर ने रिहाई के बाद संवाददाताओं के समक्ष आरोप लगाया कि ईडी ने उनकी रिहाई सुनिश्चित करने के लिए माकपा के पूर्व सचिव कोडियरी बालकृष्णन के बेटे बिनीश कोडियेरी सहित कई लोगों का नाम लेने के लिए उन्हें मजबूर किया ताकि मामले को राजनीतिक रंग दिया जा सके।

तिरुवनंतपुरम| राजनयिक माध्यम का उपयोग कर सोना तस्करी मामले में मुख्य आरोपी संदीप नैयर को शनिवार को रिहा कर दिया गया। रिहाई के बाद नैयर ने आरोप लगाया कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने उन पर सोना तस्करी मामले में केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन, पूर्व मंत्री के. टी. जलील और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष पी. श्रीरामकृष्णन का नाम लेने का दबाव डाला था।

इस पर सत्तारूढ़ माकपा ने कहा कि इससे उसके इस रुख की पुष्टि होती है कि इस मामले में सरकार और वाम दल को निशाना बनाने की साजिश रची गई। नैयर की वकील विजयम ने बताया कि विदेशी मुद्रा संरक्षण और तस्करी गतिविधियों की रोकथाम अधिनियम के तहत हिरासत अवधि पूरी होने के बाद शनिवार शाम को संदीप को जेल से रिहा किया गया।

अन्य आरोपियों के साथ पिछले साल जुलाई में गिरफ्तार किए गए नैयर ने रिहाई के बाद संवाददाताओं के समक्ष आरोप लगाया कि ईडी ने उनकी रिहाई सुनिश्चित करने के लिए माकपा के पूर्व सचिव कोडियरी बालकृष्णन के बेटे बिनीश कोडियेरी सहित कई लोगों का नाम लेने के लिए उन्हें मजबूर किया ताकि मामले को राजनीतिक रंग दिया जा सके।

इसे भी पढ़ें: थरूर ने चेताया, वर्तमान के राजनीतिक दुरुपयोग के लिए इतिहास का सहारा ना लें