भाजपा नेता ने अन्ना हजारे से की मुलाकात, नए कृषि संबंधी कानूनों के बारे में कराया अवगत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 22, 2020   22:14
भाजपा नेता ने अन्ना हजारे से की मुलाकात, नए कृषि संबंधी कानूनों के बारे में कराया अवगत

भाजपा के वरिष्ठ नेता हरिभाऊ बागाडे ने कहा, “मैंने सोमवार को अन्ना हजारे से मुलाकात की थी और उनसे लगभग एक घंटे तक बातचीत की। मैंने उन्हें कृषि कानूनों के मराठी में अनुवाद वाली एक पुस्तक भी दी। मैंने उन्हें बताया कि ये कानून और इसके साथ ही अनुबंध पर खेती किसानों के फायदे के लिये हैं।”

औरंगाबाद। भाजपा के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष हरिभाऊ बागाडे ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वाले सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे से मुलाकात की थी और उन्हें केंद्र द्वारा लाए गए तीन नए कृषि कानूनों के बारे में अवगत कराया। हजारे ने 14 दिसंबर को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पत्र लिखकर चेतावनी दी थी कि एम एस स्वामीनाथन समिति कि अनुशंसाओं को लागू करने और कृषि लागत एवं मूल्य आयोग (सीएसीपी) को स्वायत्तता प्रदान करने संबंधी उनकी मांगों को स्वीकार नहीं किया गया तो वह भूख हड़ताल करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का धरना प्रदर्शन जारी, सरकार पर लगाया ध्यान नहीं देने का आरोप 

बागाडे ने कहा, “मैंने सोमवार को अन्ना हजारे से मुलाकात की थी और उनसे लगभग एक घंटे तक बातचीत की। मैंने उन्हें कृषि कानूनों के मराठी में अनुवाद वाली एक पुस्तक भी दी। मैंने उन्हें बताया कि ये कानून और इसके साथ ही अनुबंध पर खेती किसानों के फायदे के लिये हैं।” यहां के करीब 115 किलोमीटर दूर अहमदनगर जिले के अपने पैतृक गांव रालेगण सिद्धि में हजारे ने संवाददाताओं से कहा कि वह इस मुद्दे पर केंद्र के रुख से संतुष्ट नहीं हैं और किसानों को उनकी चिंताओं के निराकरण के लिये आंदोलन करने को प्रेरित किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।