किसान दिवस पर उत्सव मनाने के बजाय प्रदर्शन करने को मजबूर हैं कृषक : अखिलेश यादव

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 23, 2020   12:22
किसान दिवस पर उत्सव मनाने के बजाय प्रदर्शन करने को मजबूर हैं कृषक : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि देश के इतिहास में एक ऐसा किसान दिवस आया है जब देश का कृषक उत्सव मनाने की जगह सड़कों पर संघर्ष करने को मजबूर है।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि देश के इतिहास में एक ऐसा किसान दिवस आया है जब देश का कृषक उत्सव मनाने की जगह सड़कों पर संघर्ष करने को मजबूर है। अखिलेश ने एक ट्वीट कर पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की जयंती पर उन्हें नमन किया।

इसे भी पढ़ें: आजम खान पर लगाये गए झूठे मुकदमे में हारेगी उत्तर प्रदेश सरकार: अखिलेश

अखिलेश ने नए कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसानों के प्रदर्शन की तरफ इशारा किया और चरण सिंह की जयंती पर मनाए जाने वाले ‘किसान दिवस’ का जिक्र करते हुए ट्वीट में कहा ‘‘आज भाजपा के राज में देश के इतिहास में एक ऐसा ‘किसान दिवस’ आया है, जब उत्सव के स्थान पर देश का किसान सड़कों पर संघर्ष करने पर मजबूर है।’’ उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने किसान दिवस हैशटैग से हिंदी में किए गए ट्वीट में कहा, ‘‘भाजपा किसानों का अपमान करना छोड़े क्योंकि ‘देश का किसान, भारत का है मान’।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...