बालाकोट बालाकोट... क्या वो लाइन बदल गई? फारूक अब्दुल्ला बोले- इससे क्या मिला, सिर्फ BJP की हुकूमत आई

बालाकोट बालाकोट... क्या वो लाइन बदल गई? फारूक अब्दुल्ला बोले- इससे क्या मिला, सिर्फ BJP की हुकूमत आई

बालाकोट एयर स्ट्राइक 26 फरवरी 2019 को किया गया था। यह एयर स्ट्राइक भारत में जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले के बदले में किया था जिसके बाद से चुनाव से पहले की राजनीति गर्म हो गई थी।

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला अक्सर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में आ जाते हैं। एक बार फिर से फारूक अब्दुल्ला ने बीजेपी पर जबरदस्त तरीके से हमला बोला है। इतना ही नहीं, बीजेपी पर हमला करते हुए उन्होंने बालाकोट एयर स्ट्राइक को लेकर भी सवाल किया। जम्मू दौरे पर आए फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि बालाकोट से हमें क्या मिला सिर्फ भाजपा की सरकार आई। गौरतलब है कि बालाकोट एयर स्ट्राइक 26 फरवरी 2019 को किया गया था। यह एयर स्ट्राइक भारत में जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले के बदले में किया था जिसके बाद से चुनाव से पहले की राजनीति गर्म हो गई थी।

अपने बयान में फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि "बालाकोट बालाकोट... क्या वो लाइन बदल गई। क्या हमने कोई हिस्सा पाकिस्तान से वापस लिया वो लाइन तो वही खड़ी है। अपना ही जहाज वहां गिराया। क्या मिला, सिर्फ BJP की हुकूमत आई। आज भी UP को जीतने के लिए ये लोग नफरत फैला रहे हैं और जम्मू में भी कर रहे हैं।" हाल में ही जम्मू कश्मीर में आतंकी घटनाओं में वृद्धि देखी गई है। जम्मू कश्मीर में लगातार आतंकी और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हो रहे हैं। इतना ही नहीं, आतंकियों ने वहां आम लोगों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। आतंकियों ने अब तक 11 आम लोगों को अपना निशाना बनाया है। 

 

इसे भी पढ़ें: फारूक अब्दुल्ला की दो टूक, कभी पाकिस्तान नहीं बनेगा कश्मीर, हम भारत का हिस्सा हैं और रहेंगे, भले ही मुझे गोली मार दी जाए


पहले दिया था यह बयान

इससे पहले नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने जम्मू-कश्मीर को लेकर एक बड़ा बयान दिया था। फारूक अब्दुल्ला ने दो टूक कहते हुए कहा कि कश्मीर कभी पाकिस्तान का हिस्सा नहीं बनेगा। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि हम भारत का हिस्सा है और रहेंगे, भले ही मुझे गोली मार दी जाए। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि कश्मीर के लोगों को साहसी बनना पड़ेगा और मिलकर हत्यारों से लड़ना होगा। लोकसभा सदस्य अब्दुल्ला ने अपने बयान में कहा कि हमें इन जानवरों से लड़ना होगा। यह (कश्मीर) कभी पाकिस्तान नहीं बनेगा, याद रखना। हम भारत का हिस्सा हैं और हम भारत का हिस्सा रहेंगे, चाहे जो हो जाए। वे मुझे गोली भी मार दें तो भी इसे नहीं बदल सकते। कौर की हत्या पर दुख जताते हुए अब्दुल्ला ने कहा कि 1990 के दशक में जब कई लोग डर की वजह से घाटी छोड़कर चले गये थे तब सिख समुदाय ने कश्मीर को नहीं छोड़ा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।