पंजाब में बर्ड फ्लू का पहला मामला सामने आया, मृत बत्तख के नमूने संक्रमित मिले

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 20, 2021   16:51
  • Like
पंजाब में बर्ड फ्लू का पहला मामला सामने आया, मृत बत्तख के नमूने संक्रमित मिले

अधिकारियों ने बताया कि एनआरडीडीएल में नमूनों के जांच में संदिग्ध पाए जाने के बाद इन्हें जांच के लिए भोपाल स्थित राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान भेजा गया था। विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘कल हमें नमूनों के ‘एच5एन1’ से संक्रमित होने की रिपोर्ट मिली।’’

चंडीगढ़। पंजाब में मृत बत्तख के नमूने के ‘एच5एन1’ से संक्रमित पाए जाने के बाद राज्य में ‘एवियन इन्फ्लूएंजा’ (बर्ड फ्लू) के पहले मामले की पुष्टि हो गई है। वन एवं वन्यजीव संरक्षण विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मोहाली के सिसवन बांध जलाशय के पास एक बत्तख मृत मिली थी, जिसके नमूने आठ जनवरी को परीक्षण के लिए जालंधर स्थित उत्तर क्षेत्रीय रोग निदान प्रयोगशाला (एनआरडीडीएल)भेजे गए थे।

इसे भी पढ़ें: हरियाणा में कोरोना से चार और लोगों की मौत, 153 नये मामले

अधिकारियों ने बताया कि एनआरडीडीएल में नमूनों के जांच में संदिग्ध पाए जाने के बाद इन्हें जांच के लिए भोपाल स्थित राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान भेजा गया था। विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘कल हमें नमूनों के ‘एच5एन1’ से संक्रमित होने की रिपोर्ट मिली।’’ उन्होंने बताया कि हर दिन पक्षियों के मल के 50 नमूने जांच के लिए भेजे जा रहे हैं। मोहाली के डेरा बस्सी के बेहरा गांव स्थित दो कुक्कुट पालन केंद्रों से भेजे गए नमूनों की रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है।

इसे भी पढ़ें: किसान आंदोलन पर बोले कैलाश चौधरी, यूनियन से कम्युनिस्ट निकल जाएं तो समाधान हो जाएगा

एनआरडीडीएल जांच में संक्रमित पाए जाने के बाद इन नमूनों को जांच के लिए भोपाल भेजा गया था। हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश और दिल्ली सहित उत्तर भारत के कई राज्यों तथा केन्द्रशासित प्रदेशों में बर्ड फ्लू के मामलों की पुष्टि होने के बाद पंजाब में इस महीने एहतियाती तौर पर कार्रवाई शुरू कर दी गई थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप-2021 में मध्य प्रदेश सीहोर के खिलाड़ियों का जलवा

  •  दिनेश शुक्ल
  •  मार्च 2, 2021   23:23
  • Like
नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप-2021 में मध्य प्रदेश सीहोर के खिलाड़ियों का जलवा

तो वही बालिका वर्ग में सीनियर वर्ग में 60 किलोग्राम में रेखा कुशवाहा गोल्ड मेडल, जूनियर बालिका वर्ग में 52 किलोग्राम में महक लोधी गोल्ड मेडल, जूनियर बालिका 40 किलोग्राम वजन वर्ग में काजल असाटिया ने ब्रॉन्ज मेडल जीते।

सीहोर। मध्य प्रदेश के सीहोर जिला बॉक्सिंग एसोसिएशन के सभी युवा बॉक्सरों ने हरियाणा के भवानी खेड़ा में हुई तीसरी नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप-2021 में 25 फरवरी से 28 फरवरी को आयोजित प्रतियोगिता में सीहोर के युवा बॉक्सरों ने अपना जलवा दिखाया और जिला बॉक्सिंग एसोसिएशन के सभी युवा बॉक्सरों ने अपने-अपने वजन वर्ग में मेडल जीते।

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश से एकमात्र महिला उद्यमी 'मैरीटाइम इंडिया समिट में हुईं शामिल, प्रधानमंत्री ने किया शुभारंभ

सीनियर वर्ग में 68 किलोग्राम में आनंद पंसोरिया (कैप्टन) ने गोल्ड मेडल, सीनियर वर्ग में 64 किलोग्राम लखन लाल वर्मा सिल्वर मेडल, 64 किलोग्राम में सीनियर वर्ग में विकास दास ब्रॉन्ज मेडल, 58 किलोग्राम वजन वर्ग सीनियर में यश सूर्यवंशी सिल्वर मेडल, 54 किलोग्राम में सीनियर वर्ग में धीरज सेन ब्रॉन्ज मेडल, जूनियर वर्ग में वंश सूर्यवंशी 46 किलोग्राम ब्रॉन्ज मैडल जीते है।

इसे भी पढ़ें: आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की नींव रखेगा प्रदेश सरकार का बजट- विष्णुदत्त शर्मा

तो वही बालिका वर्ग में सीनियर वर्ग में 60 किलोग्राम में रेखा कुशवाहा गोल्ड मेडल, जूनियर बालिका वर्ग में 52 किलोग्राम में महक लोधी गोल्ड मेडल, जूनियर बालिका 40 किलोग्राम वजन वर्ग में काजल असाटिया ने ब्रॉन्ज मेडल जीते। सभी बॉक्सरों को बधाई देने वालो में सीहोर के सभी खेल संघों ने युवा खिलाड़ियों को बधाई देते हुए सभी खिलाडिय़ों के उज्जवल भविष्य की कामना की है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


मध्य प्रदेश से एकमात्र महिला उद्यमी 'मैरीटाइम इंडिया समिट में हुईं शामिल, प्रधानमंत्री ने किया शुभारंभ

  •  दिनेश शुक्ल
  •  मार्च 2, 2021   22:57
  • Like
मध्य प्रदेश से एकमात्र महिला उद्यमी 'मैरीटाइम इंडिया समिट में हुईं शामिल, प्रधानमंत्री ने किया शुभारंभ

मध्य प्रदेश से एकमात्र महिला उद्यमी सिवनी जिले की दीपमाला को इसमें शामिल होने का अवसर मिला है, जो प्रदेश के लिए गर्व का विषय है। गौरतलब है कि, दीपमाला स्वयं के बैटरी निर्माण उद्योग से जुड़ी हुईं हैं और उन्होंने हाल ही में भारत-अमेरिका के बीच हुई अंतरराष्ट्रीय स्तर की व्यापारिक परिचर्चा में हिस्सा लेकर मप्र का प्रतिनिधित्व किया था।

सिवनी। पोर्ट इंडिया, नौवहन और जलमार्ग मंत्रालय द्वारा आयोजित मैरीटाइम इंडिया समिट में सिवनी जिले की महिला उद्यमी दीपमाला नंदन ने हिस्सा लिया। 2 मार्च से 4 मार्च तक वर्चुअल प्लेटफार्म पर चलने वाले इस समिट का शुभारंभ वीडियो कॉन्फसिंग के जरिए मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया। इस दौरान उन्होंने सागर मंथन- मर्केटाइल मैरीटाइम डोमेन अवेयरनेस सेंटर का शुभारंभ किया और ई-बुक मैरीटाइम इंडिया विजन-2030 जारी किया। इस समुद्री शिखर सम्मेलन में डेनमार्क ने एक साझेदार देश के रूप में हिस्सा लिया है। यह समिट अगले दशक के लिए समुद्री क्षेत्रों में भारत की रूपरेखा तैयार करते हुए वैश्विक समुद्री क्षेत्र में भारतीय शक्ति का विस्तार करने का काम करेगा।

 

इसे भी पढ़ें: आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की नींव रखेगा प्रदेश सरकार का बजट- विष्णुदत्त शर्मा

मैरीटाइम इंडिया समिट में तीन दिन तक समुद्र तट से लगे 50 से अधिक देशों के 1 लाख से अधिक प्रतिनिधि और व्यापार जगत से जुड़े उद्यमी शामिल हो रहे हैं, जिसमें भारत में समुद्री क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देने के लिए कई देशों के सीईओ और राजदूत भी शामिल हैं। समिट में भारत की समुद्री सीमा से सटे राज्यों को प्रमुखता से शामिल किया गया है। वही मध्य प्रदेश से एकमात्र महिला उद्यमी सिवनी जिले की दीपमाला को इसमें शामिल होने का अवसर मिला है, जो प्रदेश के लिए गर्व का विषय है। गौरतलब है कि, दीपमाला स्वयं के बैटरी निर्माण उद्योग से जुड़ी हुईं हैं और उन्होंने हाल ही में भारत-अमेरिका के बीच हुई अंतरराष्ट्रीय स्तर की व्यापारिक परिचर्चा में हिस्सा लेकर मध्य प्रदेश का प्रतिनिधित्व किया था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की नींव रखेगा प्रदेश सरकार का बजट- विष्णुदत्त शर्मा

  •  दिनेश शुक्ल
  •  मार्च 2, 2021   22:33
  • Like
आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की नींव रखेगा प्रदेश सरकार का बजट- विष्णुदत्त शर्मा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि वर्ष 2020 में मुख्यमंत्री के रूप में पद भार ग्रहण करने के उपरांत शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आत्मनिर्भर भारत की अवधारणा की पूरक अवधारणा के रूप में आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश को प्रस्तुत किया था।

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत का जो विचार दिया है, प्रदेश सरकार का बजट इसी विचार के अंग के रूप में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की नींव रखेगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और वित्तमंत्री जगदीश देवड़ा को इस बजट के लिए बधाई देता हूं, जिसके माध्यम से उन्होंने आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की अवधारणा को जमीन पर उतारने का सूत्रपात कर दिया है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने राज्य सरकार के बजट प्रस्तावों का स्वागत करते हुए कही।

 

इसे भी पढ़ें: डिजीटल रूप में प्रस्तुत हुआ मध्य प्रदेश सरकार का बजट, मुख्यमंत्री ने कहा कोई नया कर नहीं

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि वर्ष 2020 में मुख्यमंत्री के रूप में पद भार ग्रहण करने के उपरांत शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आत्मनिर्भर भारत की अवधारणा की पूरक अवधारणा के रूप में आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश को प्रस्तुत किया था। मुख्यमंत्री चौहान ने आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की अवधारणा को भौतिक अधोसंरचना, सुशासन, स्वास्थ्य और अर्थव्यवस्था-स्वरोजगार जैसे चार सेक्टरों में विभाजित किया था।

 

इसे भी पढ़ें: छिंदवाड़ा जिला प्रशासन को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का मॉर्निंग वॉक पड़ा भारी

विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार के वर्ष 2021-22 के बजट में इन चारों ही सेक्टरों पर जोर दिया गया है और इनके लिए विशेषीकृत बजटीय प्रावधान किए गए हैं। शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार का यह बजट मध्य प्रदेश को तेजी से आत्मनिर्भरता के रास्ते पर आगे बढ़ाएगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept