पहले मां ने बेटी को लटकाया फांसी के फंदे पर, फिर खुद ने की खुदकुशी

पहले मां ने बेटी को लटकाया फांसी के फंदे पर, फिर खुद ने की खुदकुशी
प्रतिरूप फोटो

घटना जोबट थाना क्षेत्र के भीलखेड़ी गांव की है। जहां अज्ञात कारणों के चलते नवविवाहिता रंजीता राकेश ने अपनी 1 साल की बेटी वर्षा के साथ पंखे के कड़े से फंदा लगाकर जान दे दी।

भोपाल। मध्य प्रदेश के अलीराजपुर जिले से एक दर्दनाक घटना सामने आई है। 23 वर्षीय एक नवविवाहिता ने पहले अपनी एक साल की बेटी को फांसी के फंदे पर लटकाया। और जिसके बाद खुद फांसी लगाकर जान दे दी। पति जब घर लौटा तो दोनों को फंदे पर लटका देख बदहवास हो गया।  खुदकुशी का कारण फिलहाल स्पष्ट नहीं हुआ है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

इसे भी पढ़ें:सतना में दिनदहाड़े दबंगों का कहर, कोचिंग के अंदर घुसकर आधा दर्जन दबंगों ने छात्र के साथ की मारपीट 

आपको बता दें कि ये घटना जोबट थाना क्षेत्र के भीलखेड़ी गांव की है। जहां अज्ञात कारणों के चलते नवविवाहिता रंजीता राकेश  ने अपनी 1 साल की बेटी वर्षा के साथ पंखे के कड़े से फंदा लगाकर जान दे दी। जब पति राकेश मजदूरी करके घर लौटा तो पत्नी ओर बेटी को फंदे पर लटकता देखा।

वहीं उसने अपने भाई और ग्रामीणों को तुरंत इसकी सूचना दी और जोबट पुलिस थाने पहुंचकर पुलिस को घटना के बारे में बताया। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मर्ग कायम किया और पंचनामा के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

इसे भी पढ़ें:उज्जैन में महाकाल भक्तों को 6 दिसंबर से गर्भगृह में प्रवेश की दी अनुमति 

बताया जा रहा है कि महिला की 4 साल पहले ही शादी हुई थी। वहीं महिला के दो बच्चे थे जिनमें एक 3 वर्ष का लड़का और 1 वर्ष की लड़की थी जिसके साथ महिला ने फांसी लगाकर जान दी है।

इस घटना को लेकर जोबट एसडीओपी का कहना है कि पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों की लाश को फंदे से उतारकर पंचनामा बनवाया है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट रूप से सामने आ पाएगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।