हिसार के निजी अस्पताल में पांच कोविड-19 रोगियो की मौत,ऑक्सीजन की कमी का आरोप

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 26, 2021   16:08
हिसार के निजी अस्पताल में पांच कोविड-19 रोगियो की मौत,ऑक्सीजन की कमी का आरोप

हरियाणा के हिसार में एक निजी अस्पताल में पांच कोविड-19 रोगियों की सोमवार को मौत हो गई, जिसके बाद मृतकों के संबंधी अस्पताल में चिकित्सीय ऑक्सीजन की कथित कमी को उनकी मौत का कारण बताकर विरोध प्रदर्शन करने लगे।

हिसार (हरियाणा)। हरियाणा के हिसार में एक निजी अस्पताल में पांच कोविड-19 रोगियों की सोमवार को मौत हो गई, जिसके बाद मृतकों के संबंधी अस्पताल में चिकित्सीय ऑक्सीजन की कथित कमी को उनकी मौत का कारण बताकर विरोध प्रदर्शन करने लगे। पुलिस ने कहा कि वह ऑक्सीजन की कमी के आरोपों की जांच करेगी। अस्पताल प्रशासन की ओर से इस मामले पर कोई टिप्पणी नहीं की गई है। अस्पताल में जान गंवाने वाले तीन रोगी हिसार के निवासी थे जबकि एक व्यक्ति दिल्ली से जबकि एक व्यक्ति पंजाब से संबंध रखता था।

इसे भी पढ़ें: भाजपा सरकार को सत्ता का दंभ छोड़कर परिवार की तरह सोचना चाहिए : अखिलेश यादव

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि मृतकों के शवों को कोविड-19 से मौत के संबंध में सरकार द्वारा जारी नियमों का पालन करते हुए यहां अग्रोहा मेडिकल कॉलेज भेजा गया है। इस बीच किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिये अस्पताल के अंदर और आसपास पुलिस तैनात है। अर्बन एस्टेट पुलिस थाने के प्रभारी जगदीश ने कहा कि वे मृतकों के परिवार के सदस्यों द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: मिजोरम के जंगलों में लगी भीषण आग शहर तक पहुंची, PM मोदी ने हरसंभव मदद का आश्वासन दिया

उन्होंने कहा कि उन्हें किसी मृतक के परिवार के सदस्य की ओर से अस्पताल की कथित लापरवाही के संबंध औपचारिक रूप से शिकायत नहीं मिली है। उन्होंने यह भी कहा कि हिसार के मुख्य चिकित्सा अधिकारी पूरे मामले की जांच करेंगे। जरूरत पड़ी तो सीएमओ की जांच रिपोर्ट के आधार पर पुलिस कार्रवाई की जाएगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...