मध्य प्रदेश के पूर्व CM कमलनाथ बोले- भारत महान नहीं, भारत बदनाम है

मध्य प्रदेश के पूर्व CM कमलनाथ बोले- भारत महान नहीं, भारत बदनाम है

कमलनाथ ने मोदी सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते थे कि हमने कोरोना वायरस से लड़ाई जीत ली है। लेकिन अब जब वैक्सीन की किल्लत हो रही है तो वह ग्लोबल टेंडर निकालने की बात कर रहे हैं।

कांग्रेस के नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का एक और बयान खूब चर्चा में है। एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह यह बोलते हुए सुने जा रहे हैं कि भारत महान नहीं है, भारत बदनाम है। उन्होंने आगे कहा कि सारे देशों ने भारत से आने वाले लोगों पर पाबंदी लगा दी है। उन्होंने दावा किया कि उनका एक मित्र न्यूयॉर्क से फोन किया था। उसने कहा कि न्यूयॉर्क में भारत के टैक्सी चलाने वाले लोगों के टैक्सी में कोई बैठना नहीं चाहता है।

कमलनाथ ने मोदी सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते थे कि हमने कोरोना वायरस से लड़ाई जीत ली है। लेकिन अब जब वैक्सीन की किल्लत हो रही है तो वह ग्लोबल टेंडर निकालने की बात कर रहे हैं। इससे पहले कमलनाथ ने केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि आज प्रदेशवासी सरकार के भरोसे नहीं, भगवान भरोसे है। किस तरह हमारा भारत आज भाजपा सरकार के कारण विश्व भर में बदनाम हो रहा है।

इसे भी पढ़ें: कमलनाथ बोले शिवराज सरकार चाहती है कि मैं चुप रहूं लेकिन कोई एफआईआर मुझे दबा नहीं सकती

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के आग लगाने वाले बयान पर राजनीति कम होने का नाम नहीं ले रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कमलनाथ से जवाब मांगने और भाजपा नेताओं द्वारा एफआईआर करवाये जाने पर कमलनाथ ने पलटवार किया है। उन्होंने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि शिवराज सरकार चाहती है कि मैं चुप रहूँ, जनता की आवाज़ ना उठाऊँ और उनके हक़ की लड़ाई ना लडू, लेकिन मैं चुप नहीं बैठूँगा। जीवन की आखरी साँस तक जनता के हित की लड़ाई लड़ता रहूँगा, कोई एफआईआर मुझे दबा नहीं सकती है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...